Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

पृथ्वी की सुरक्षा के लिए वृक्षारोपण जरूरी- सांसद विजय बघेल सांसद विजय बघेल

  भिलाई . असल बात न्यूज़.     दुर्ग लोकसभा क्षेत्र से दूसरी बार निर्वाचित सांसद विजय बघेल ने कहा है कि पृथ्वी की सुरक्षा के लिए, पर्यावरण मे...

Also Read

 

भिलाई .

असल बात न्यूज़.   

 दुर्ग लोकसभा क्षेत्र से दूसरी बार निर्वाचित सांसद विजय बघेल ने कहा है कि पृथ्वी की सुरक्षा के लिए, पर्यावरण में संतुलन बनाए रखने के लिए वृक्षारोपण बहुत जरूरी है. हम प्रकृति को नुकसान पहुंचाते रहेंगे तो प्रकृति के प्रकोप  से हम बच नहीं सकेंगे. सांसद श्री बघेल ने यहां अपने कार्यकर्ताओं समर्थकों औऱ आम लोगों को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर संबोधित करते हुए यह बातें कही.

 उन्होंने इस अवसर पर लोगों को अपने घर के आंगन में एक पेड़ जरूर रोपने का आह्वान किया. सांसद विजय बघेल ने इस लोकसभा चुनाव में दूसरी बार भारी मतों से बड़ी जीत हासिल की है. बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता, उनके समर्थक और ग्रामीणजन उन्हें बधाइयां और शुभकामनाएं देने आज उनके भिलाई स्थित निवास पर पहुंचे. सांसद श्री बघेल ने इन कार्यकर्ताओं से भी अपने आंगन में  एक पेड़  लगाने का आव्हान  किया.

 इस अवसर पर बोलते हुए सांसद विजय बघेल ने कहा कि अभी बारिश  शुरू होने वाली है. मानसून आ रहा है.यह मौसम वृक्षारोपण के सर्वाधिक उपयुक्त होता है.उन्होंने आव्हान करते हुए कहा कि सभी लोग, इस बार, इस बारिश के दिनों में अपने घर या अपने आसपास एक वृक्ष जरुर लगाये और कुछ वर्षों तक उसका संरक्षण कर उसे बड़ा करने में सहायता करें. इससे पर्यावरण के संरक्षण में मदद मिलेगी.

 उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में गर्मी बढ़ती जा रही है भीषण गर्मी से हर जगह तबाही मची हुई है. गर्मी से सभी लोग परेशान हैं तो वहीं आंधियां भी आ रहे हैं और जगह-जगह भारी नुकसानदेह बारिश होने की भी शिकायतें आ रही हैं. जगह-जगह बारिश भी धीरे-धीरे कम होती जा रही है. यह सब हम प्रकृति के साथ खिलवाड़  करने का खामीयाजा भुगत  रहे हैं. ऐसे हालात के लिए हम सब जिम्मेदार हैं.हमने प्रकृति के विनाश का काम किया है. वृक्ष लगातार काटे जा रहे हैं.जल को व्यर्थ बहा दिया जाता है. प्रकृति ने हमें जो संसाधन दिया है हम उसका बेरहमी से दुरुपयोग कर रहे हैं.

 उन्होंने कहा कि प्रकृति के विनाश को रोकने के लिए हमें ही आगे आना होगा और इसके लिएवृक्षारोपण करना सबसे जरूरी है.