Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

Anandam World City के बिल्डर पर नगर निगम जोन-9 के अधिकारी काफी महरबान,सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम पूरा हुआ नहीं, लेकिन निगम अधिकारियों ने कागजों में बचा लिया

 राजधानी रायपुर के पॉश कॉलोनियों में से एक Anandam World City के बिल्डर पर नगर निगम जोन-9 के अधिकारी काफी महरबान है. महरबान इतने कि यहां सिव...

Also Read

 राजधानी रायपुर के पॉश कॉलोनियों में से एक Anandam World City के बिल्डर पर नगर निगम जोन-9 के अधिकारी काफी महरबान है. महरबान इतने कि यहां सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम पूरा हुआ ही नहीं लेकिन न जाने निगम के अधिकारियों ने कौन सा चश्मा लगाकर ये जांच की, कि उन्हें यहां सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट काफी हद तक दिखाई दे रहा है और अपनी रिपोर्ट में वो ये भी कह रहे है कि सोसायटी का ग्रे वाटर सीधे नाले में नहीं जा रहा है. इसकी शिकायत जब नगर निगम आयुक्त से की तो उन्होंने भी इसकी जांच करवाई तो पता चला कि जोन-9 के अधिकारियों की रिपोर्ट अधूरी है, आयुक्त ने अपनी जांच रिपोर्ट के बाद जोन-9 के अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा है.दरअसल Anandam World City के बिल्डर ने यहां बंगला बुक कराने वाले लोगों से पैसे तो पूरे लिए, लेकिन अपनी इस सोसायटी में उन्हें जो सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगवाना था, लेकिन वो न लगवाकर सीधा सोसायटी का गंदा पानी नाले से जोड़ दिया गया. इस पूरे मामले की शिकायत वहां रहने वाले लोगों की सोसायटी ने की, जिसके बाद जोन-9 के अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट पेश की. जिसमें यहां सिवरेज का ट्रीटमेंट प्लांट का काम पूरा होना बताया. लेकिन इसके बाद फिर प्रमाण के साथ सोसायटी ने इसकी शिकायत आयुक्त से की और जांच के बाद स्पष्ट हुआ कि यहां काम अधूरा है और इसके बाद जोन-9 के अधिकारियों को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा गया है. इतना ही नहीं सिवरेंज प्लांट लगे बिना ही बिल्डर को कंप्लिशन सर्टिफिकेट भी सौंप दिया गया है.



क्या कहा जोन कमिश्नर ने ?

वहां सिवरेंज प्लांट का काफी काम हो चुका है. इसके प्रमाण हमने सौप दिए है, हालांकि प्लांट नहीं लगा है. क्योंकि वहां पूरे लोग अभी बसे नहीं है.

संतोष पांडे जोन-9 कमिश्नररायपुर.

क्या कहा बिल्डर ने ?

मेरे 30 लाख रूपए नगर निगम में जमा है. जो शिकायतकर्ता है वो नॉन टेक्निकल है. सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट डेंसीटी के आधार पर लगता है. मुझे ब्लैकमेल करने के लिए लगातार मेरी झूठी शिकायत की जा रही है.

राकेश सरावगी, बिल्डर, आनंदम वर्ल्ड सिटी