Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत लाखेनगर चौक से बूढ़ेश्वर चौक तक स्मार्ट रोड निर्माण कार्य में अनावश्यक विलंब

  रायपुर.  स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत लाखेनगर चौक से बूढ़ेश्वर चौक तक स्मार्ट रोड निर्माण कार्य में अनावश्यक विलंब, कार्य की धीमी गति ...

Also Read

 रायपुर. स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत लाखेनगर चौक से बूढ़ेश्वर चौक तक स्मार्ट रोड निर्माण कार्य में अनावश्यक विलंब, कार्य की धीमी गति व मानक स्तर की गुणवत्ता न पाए जाने पर कार्य एजेंसी का अनुबंध निरस्त कर दिया गया है. मेसर्स मोहम्मद फारूक वारसी जे.वी. एवं मेसर्स राजपाल कंस्ट्रक्शन का अनुबंध निरस्त कर एजेंसी को तत्काल कार्य स्थल खाली कर स्मार्ट सिटी को हैंड ओवर करने कहा गया है.



कार्य एजेंसी को 31 मार्च 2022 को कार्यादेश सौंपकर लाखेनगर चौक से बूढ़ेश्वर चौक तक स्मार्ट रोड निर्माण की जिम्मेदारी दी गई थी. 6 नोटिस के बाद भी उक्त एजेंसी द्वारा न तो वर्क शिड्यूल जमा किया जा रहा था, न ही कार्य की गति बढ़ाने अपने स्तर से कोई भी प्रयास किया जा रहा था. अकारण काम बंद करने, निर्माण एवं विध्वंस सामग्री कार्य स्थल पर छोड़ने से आम नागरिकों को भी परेशानी हो रही थी एवं यातायात भी निरंतर बाधित हो रहा था. इस कार्यक्षेत्र में स्ट्रीट लाइट पोल लगाने की भी जिम्मेदारी इस एजेंसी को दी गई थी, जिसकी भी गति अत्यंत धीमी एवं नगण्य थी.

रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तकनीकी अमले ने अपने स्थल निरीक्षण में भी कार्य एजेंसी के तकनीकी कर्मचारियों की अनुपस्थिति व कार्य की गुणवत्ता के संबंध में चेतावनी दी थी. बावजूद इसके आम नागरिकों की सेवा से जुड़े इस महत्वपूर्ण कार्य को पूरा करने में एजेंसी ने उदासीनता दिखाई, जिससे न केवल आम नागरिकों को असुविधा हो रही थी, बल्कि दुर्घटना की भी आशंका बनी हुई थी.

प्रबंध संचालक अबिनाश मिश्रा ने अपने निरीक्षण भ्रमण के दौरान कार्य एजेंसी की लापरवाही संज्ञान में आने पर इसे गंभीरता से लेते हुए कड़ी कार्यवाही की है. उन्होंने अनुबंध की शर्तों के अध्यधीन मेसर्स मोहम्मद फारूक वारसी जे.वी., मेसर्स राजपाल कंस्ट्रक्शन का अनुबंध समाप्त कर दिया है एवं कार्य स्थल तत्काल खाली कर विभाग को हैंड ओवर किए जाने का आदेश जारी किया है.