Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

भाजपा के काला दिवस मनाने पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पलटवार, कहा- आज आपातकाल से बदतर स्थिति...

  रायपुर।   25 जून 1975 को तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी ने देर रात देश में आपातकाल की घोषणा की थी. आपातकाल की 50वीं बरसी को भारतीय जनता पार्टी...

Also Read

 रायपुर। 25 जून 1975 को तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी ने देर रात देश में आपातकाल की घोषणा की थी. आपातकाल की 50वीं बरसी को भारतीय जनता पार्टी काला दिवस के तौर पर मना रही है. भाजपा के आयोजन पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तंज कसते हुए कहा कि वो तो घोषित आपातकाल था, आज तो अघोषित आपातकाल है. 



पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आज आपातकाल से बदतर स्थिति है. मुख्यमंत्रियों को जेल भेजा जा रहा. किसानों के आंदोलन में कील ठोक रहे हैं. कांग्रेस के खाते सीज किए जा रहे हैं. धर्म के नाम पर प्रधानमंत्री वोट मांगते हैं. एक दिन में 78 सांसद निलंबित कर दिए जाते हैं. बताइए भला लोकतंत्र कहां है? भाजपा के कार्यकर्ता तो बोल भी नहीं पा रहे? रमन सिंह का तो नहीं कह सकता, वो विधानसभा अध्यक्ष हैं, लेकिन अजय चंद्राकर, बृजमोहन अग्रवाल, रेणुका सिंह, अमर अग्रवाल ये तो बोल भी नहीं पा रहे हैं.

टेट में लापरवाही का आरोप

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके साथ ही आरोप लगाया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा (TAT) परीक्षा के दौरान बड़ी लापरवाही बरती गई. मामला धमतरी जिले के भखारा केंद्र का है. इस केंद्र में चार सौ परीक्षार्थी थे, लेकिन आंसरशीट सिर्फ 160 ही थे. लिहाजा परीक्षा आधे घन्टे देर से शुरु हुई. इस लापरवाही का खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ रहा. लिहाजा हमारी मांग है कि इस केंद्र की परीक्षा दोबारा ली जाए.