Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

केबिनेट के चिंतन शिविर पर कांग्रेस ने जताई आपत्ति, पूर्व मंत्री मूणत बोले- कांग्रेस की टांग अड़ाने की आदत

  रायपुर।  नया रायपुर स्थित भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) में शुक्रवार को छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्रिमंडल का दो दिवसीय चिंतन शिविर प्रारंभ हु...

Also Read

 रायपुर। नया रायपुर स्थित भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) में शुक्रवार को छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्रिमंडल का दो दिवसीय चिंतन शिविर प्रारंभ हुआ. इस चिंतन शिविर पर कांग्रेस ने आपत्ति जताते हुए चुनाव आयोग से लिखित में शिकायत की है. कांग्रेस ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा है कि ये खुलेआम आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला है. चुनाव आयोग को इस पर कार्रवाई करनी चाहिए. कांग्रेस के लगाए जा रहे आरोपों पर पूर्व मंत्री एवं विधायक राजेश मूणत ने पलटवार किया है. इसके साथ ही उन्होंने मतगणना के लिए बीजेपी की तैयारियों को लेकर जानकारी दी.



पूर्व मंत्री एवं विधायक राजेश मूणत ने साय सरकार के चिंतन शिविर पर कांग्रेस की आपत्ति को लेकर कहा कि इसमें किस तरह से आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है ? चिंतन शिविर में किसी तरह का कोई लीगल डिसीजन नहीं लिया जा रहा हैं. समय का सदुपयोग करते हुए छत्तीसगढ़ की आम जनता की समस्याओं का समाधान किस तरह से किया जा सकता है, जनता के साथ सरकार के विकास के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है. पूर्व मंत्री मूणत ने इस दौरान कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस की टांग अड़ाने की आदत है. कांग्रेस के एग्जिट पोल डिबेट के बहिष्कार पर पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कांग्रेस ने साधते हुए कहा कि कांग्रेस को भाग लेने की क्या जरूरत है. उन्होंने कहा कि जब रिजल्ट क्लियर है तो भाग लेने नहीं लेने से क्या फर्क पड़ने वाला है.

चावल घोटाले की जांच के लिए बनाए बनाई गई जांच समिति पर राजेश मूणत ने कहा कि चावल घोटाला कई दिनों से चर्चा में है. इसकी जांच के लिए विधायकों की विधानसभा स्तरीय समिति बनी है. पुन्नूलाल मोहले की अध्यक्षता में अभी विधायक तथ्यों की जांच कर रहे है. विवेचना पूर्ण होने के बाद जो भी तथ्य निकलकर सामने आएंगे उसपर विधानसभा निर्णय लेगी.

मतगणना के लिए बीजेपी की तैयारियों पर पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि चुनाव के समापन के साथ सभी को रिजल्ट का इंतज़ार होता है. छोटी-छोटी चीजों को देखना पड़ता है. ताकि, कोई चूक ना हो जाए जिससे रिजल्ट प्रभावित हो. हम दो चुनाव से बहुत कुछ सीख चुके हैं. हमारा उद्देश्य कार्यकर्ता, पोलिंग एजेंट और मतगणना एजेंट और आर.ओ को जागरूक करना है. पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने बताया कि मतगणना के मद्देनजर बीजेपी ने लोकसभा से लेकर विधानसभा स्तर तक एक टीम बनाई है. मतगणना के दौरान किन-किन बातों पर नजर रखनी चाहिए, किसकी जांच होनी चाहिए जानकारी देंगे, ताकि मतगणना व्यवस्थित तरीके से हो सके.

रायपुर से बीजेपी उम्मीदवार और रायपुर दक्षिण विधायक बृजमोहन अग्रवाल को अग्रिम बधाई के लगे पोस्ट पर राजेश मूणत ने कहा कि यह ओवर कॉन्फिडेंस नहीं है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ने चुनाव लड़ा, लेकिन कहीं मैदान पर कही दिखाई दिया क्या ? यह प्रश्न मैंने पहले भी खड़ा किया था की ये कांग्रेस का प्रत्याशी नहीं कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव का चुनाव था. जिस पश्चिम विधानसभा चुनाव में हमने उन्हें पहले हराया है. अब लोकसभा में उससे डबल आंकड़ों से उन्हें हराएंगे.