Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

सूने मकानों में चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने में पुलिस को सफलता

  धमतरी. छत्तीसगढ़ के धमतरी, महासमुद, कवर्धा, राजनांदगांव के सूने मकानों में चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने में पुलिस को सफलता मि...

Also Read

 धमतरी. छत्तीसगढ़ के धमतरी, महासमुद, कवर्धा, राजनांदगांव के सूने मकानों में चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है. चोरी के सामान खरीदने वाले सोनार को भी गिरफ्तार किया गया है. मुख्य आरोपी कर्नाल हरियाणा से अपने दोस्तों को बुलाकर वारदात को अंजाम देता था. आरोपियों के पास से सोने-चांदी के जेवरात, नगदी 80 हजार रुपए, एक बाइक, एक कार जब्त की गई है. बता दें कि सभी आरोपी पहले भी चोरी समेत अन्य मामलों में जेल जा चुके हैं.



पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 26 मई को दिन में प्रार्थी श्यामा प्रसाद मुखर्जी निवासी मैत्री विहार कॉलोनी धमतरी के सूने मकान में अज्ञात चोरों ने ताला तोड़कर धावा बोला था. आलमारी में रखे चांदी के जेवरात एवं भगवान की मूर्तियां, चांदी के सिक्के एवं चांदी से बने अन्य सामान एवं नगदी 2 लाख रुपए चोरी कर फरार हो गए थे. प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना सिटी कोतवाली धमतरी में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया था. पुलिस अधीक्षक ने अज्ञात आरोपियों की पतासाजी करने सायबर सेल तकनीकी एवं थाना सिटी कोतवाली धमतरी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए थे. इस पर सायबर सेल तकनीकी एवं सिटी कोतवाली पुलिस आरोपी की पतासाजी कर रही थी.

विवेचना के दौरान घटना स्थल का निरीक्षण किया गया. घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को बारिकी से अध्ययन किया गया. घटना स्थल के आसपास तीन व्यक्तियों का संदिग्ध हालत में कॉलोनी में घुमते हुए देखा गया. चोरी करने के पहले एवं बाद में उनके आने-जाने के रास्ते धमतरी से रायपुर से दुर्ग क्षेत्रों में लगे लगभग 500 सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को बारिकी से देखा गया. इसी प्रकार की घटना जिला कबीरधाम, महासमुंद, राजनांदगांव में हुए चोरी का सीसीटीवी फुटेज प्राप्त कर फुटेज का मिलान किया गया. तीनों घटना का वारदात तरीका एवं फुटेज से प्राप्त हुलिया एवं बाइक में समानता पाया गया.

संदेही आरोपियों को पकड़ने 04 अलग-अलग टीम गठित कर आसपास शरहदी राज्यों एवं जिलो के लिए रवाना कर पतासाजी की जा रही थी. इस दौरान टीम को मुखबीर से सूचना मिली कि तीनों आरोपियों में से एक आरोपी का हुलिया दुर्ग निवासी शेख फैजल रूप में पहचान किया गया, जो मई में चोरी के प्रकरण में जेल में निरूद्ध रहा है. उसे पकड़कर पूछताछ करने पर अपने साथी कार्तिक वाल्मिकी, विशाल के साथ चोरी करना स्वीकार किया. फैजल के बताए अनुसार आरोपी कार्तिक एवं विशाल को घेराबंदी कर पकड़ा गया, जिनसे चोरी के संबंध में पूछताछ करने पर जिला धमतरी में चोरी करना स्वीकार किया गया. कड़ाई से पूछताछ करने पर जिला कबीरधाम, महासमुंद, राजनांदगांव में भी चोरी करना बताया.

इन जिलों में वारदात को दिया था अंजाम

  1. दिनांक 20.04.24 को महासमुंद
  2. दिनांक 22.05.24 को सोनी काली खेमड़ा थाना बसना
  3. दिनांक 23.04.24 को गोकुलधाम कालोनी कवर्धा
  4. दिनाक 28.05.24 मैत्री विहार कालोनी धमतरी
  5. दिनांक 29.05.24 कोई दर्शन काली कौरिणभाठा राजनांदगांव

ये हैं पकड़े गए चोरी के आरोपी

  1. विक्की वर्मा पिता स्व० राजेश वर्मा उम्र 30 साल सा० सड़क नं 09 पंप हाउस के पास जोन-03 न्यू कुर्सीपार भिलाई।
  2. शेख फैजल पिता स्व० शेख मौजिब उम्र 23 साल साकिन पावर हाऊस निलाई कैंप -02 सोनकर मोहल्ला जिला दुर्ग।
  3. कार्तिक वाल्मिकी पिता देवराज वाल्मिकी उम्र 26 साल साकिन साकिन गंगल कालोनी पुरानी टैंक करनाल हरियाणा
  4. विशाल वाल्मिकी पिता अनिल वाल्मिकी उम्र 21 साल साकिन मंगल कालोनी पुरानी टैंक करनाल हरियाणा
  5. लाला राम साहू पिता स्व०झडीराम साहू उम्र 48 साल साकिन मंगल बाजार छावनी जिला दुर्ग (सोनार)