Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

आदिवासी महिला की मौत के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लक्ष्मी नारायण हॉस्पिटल को सील कर दिया

  गरियाबंद।  छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले के गांव छुरा में एक आदिवासी महिला की मौत के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए...

Also Read

 गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले के गांव छुरा में एक आदिवासी महिला की मौत के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लक्ष्मी नारायण हॉस्पिटल को सील कर दिया है। अस्पताल में महिला के पेट का ऑपरेशन किया गया था, जिसके बाद महिला की मौत हो गई। इस मामले की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में कई चौकाने वाले खुलासे हुए हैं। 


बता दें, लक्ष्मी नारायण अस्पताल में कुल्हाड़ीघाट की आदिवासी गैन्दू बाई के पेट के ऑपरेशन किया गया था। महिला गर्भवती भी थी। लक्ष्मी नारायण अस्पताल में लम्बे समय से इलाज कराने के बाद हालत बिगड़ने से गैंदी बाई की मौत 10 मई को रायपुर के अस्पताल में हो गई थी। पीड़ित परिवार ने महिला की मौत के लिए अस्पताल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराते हुए डॉक्टरों पर ऑपरेशन दौरान गड़बड़ी करने के आरोप लगाए हैं। परिजनों ने इस मामले की शिकायत कलेक्टर के पास जाकर की, जिसके बाद प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अन्य एडमिट मरीजों को जिला अस्पताल में शिप्ट करके लक्ष्मी हॉस्पिटल हॉस्पिटल को सील कर दिया है। 

वहीं मृत आदिवासी महिला का ऑपरेशन करने वाले चिकित्सक के खिलाफ भी कार्रवाई करने की तैयारी है। बताया जा रहा है, कि मृतिका का ऑपरेशन करने वाला सिविल सर्जन महासमुंद मेडिकल कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर है। इसके चलते डॉक्टर ने फ्रीलांस कार्य के नियमों का पालन किया है या नहीं, ऑपरेशन के समय में कार्यस्थल में किस जगह होना बताया गया, इन तमाम बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

जांच दल में शामिल चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर हरीश चौहान ने प्रशासन की कार्रवाई की पुष्टि की है। उन्होंने बताया, कि अस्पताल सील की कार्रवाई के बाद मामले में तय बिंदुओं पर आगे जांच की जाएगी और रिपोर्ट सौंपी जाएगी।