Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

विश्व जल दिवस का खालसा कॉलेज में आयोजन जल संरक्षण हम सब की जिम्मेदारी - डॉ पाणिग्रही

 दुर्ग  खालसा महाविद्यालय में " विश्व जल दिवस " के अवसर पर अतिथि व्याख्यान का आयोजन किया गया । अतिथि व्याख्यान जल ही जीवन है विषय ...

Also Read

 दुर्ग


 खालसा महाविद्यालय में " विश्व जल दिवस " के अवसर पर अतिथि व्याख्यान का आयोजन किया गया । अतिथि व्याख्यान जल ही जीवन है विषय पर डॉ विश्वनाथ पाणिग्रही जी के द्वारा व्याख्यान प्रस्तुत किया गया ।कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की पूजा वंदन एवं दिप प्रज्वलन द्वारा किया गया तत्पश्चात डॉक्टर सुनीता बोकाडे प्राचार्य खालसा महाविद्यालय द्वारा बी.एड़. विद्यार्थियों को विश्व जल दिवस पर जल के महत्व को समझाते हुए जल के उपयोगिता एवं जल संरक्षण पर विशेष ध्यान केंद्रित करते हुए अनिवार्य रूप से प्रति व्यक्ति वृक्षारोपण करने की सलाह दे और कहा के पर्यावरण की सुरक्षा एवं जल की आपूर्ति हमारा स्वयं का उत्तरदायित्व है ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. विश्वनाथ पाणिग्रही जी को आमंत्रित की अतिथि व्याख्यान के कडी़  को आगे बढ़ते हुए डॉ. पाणिग्रही जी ने जल ही जीवन है विषय पर अपने व्याख्यान प्रस्तुत किया उन्होंने बताया कि ऋग्वेद काल से ही हमारे धार्मिक ग्रंथो में जल के संरक्षण एवं संवर्धन के महत्व को स्वीकार किया जा रहा है आज के वर्तमान परिवेश में जल के संकट को देखते हुए डॉक्टर पाणिग्रही ने  जल संकट के विभिन्न आंकड़े बताएं जीरो जल स्तर वाले देश दक्षिण अफ्रीका के केपटाऊन शहर के बारे में बताया जिसे जीरो जल घोषित कर दिया गया है ।हमारे देश में लातूर, चेन्नई ,बंगलौर के जल संकट की गंभीरता को समझाते हुए उन्होंने जल के संरक्षण एवं संवर्धन की विभिन्न वीडियो को बहुत ही सुंदर एवं रोचक तरीका से प्रस्तुत किया साथ ही रैन वाटर हार्वेस्टिंग के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए सरकार से अपील किया कि  रैन वाटर हार्वेस्टिंग कार्य में लोगों को सब्सिडी मिले तो अच्छा परिणाम आएगा । स्वच्छ भारत मिशन की तर्ज पर रैन वाटर हार्वेस्टिंग कार्य को सफल बनाने इसे कम्यूनिटी से जोड़ें ।  सी एल डब्लू सी याने कम्यूनिटी लेड वाटर कंजर्वेशन   कार्यक्रम चलाया जाय ।सफलता मिलेगी। राजनीतिक दलों से अनुरोध किया चुनाव घोषणा पत्र में जल संरक्षण एवम वन संवर्धन को शामिल करें ।  डॉ पाणिग्राही ने जल संरक्षण के लिए 3 आर याने रिड्यूस ,रीयूज , रीसाइकल कांसेप्ट के बारे में बताया इससे हम अपने  दैनंदिनी कार्यों में उपयोग कर पानी बचा सकते हैं ।इस कार्यक्रम में मंच संचालन श्रीमती मनीषा वर्मा सहायक अध्यापक खालसा कॉलेज द्वारा किया गया तथा आभार प्रदर्शन कार्यक्रम का आयोजन इको क्लब की प्रभारी श्रीमती आभा शर्मा द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के  समस्त प्राध्यापक एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे