Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान मूल्यांकन परीक्षा को सफल बनाएं-कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे

 कवर्धा कवर्धा, आगामी 17 मार्च को उल्लास नव भारत साक्षरता कार्यक्रम अंतर्गत भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय, स्कूल शिक्षा, साक्षरता विभाग तथा ...

Also Read

 कवर्धा



कवर्धा, आगामी 17 मार्च को उल्लास नव भारत साक्षरता कार्यक्रम अंतर्गत भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय, स्कूल शिक्षा, साक्षरता विभाग तथा राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान, नई दिल्ली की पहल पर आयोजित राष्ट्रव्यापी बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन होगा। कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण श्री जनमेजय महोबे की अध्यक्षता में आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान मूल्यांकन परीक्षा को सफल बनाने के लिए  अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने कहा कि उल्लास नव भारत साक्षरता कार्यक्रम में दस हजार शिक्षार्थियों को परीक्षा में सम्मिलित करने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि उन सभी शिक्षार्थियों को इस मूल्यांकन परीक्षा में सम्मिलित किया जाए। कलेक्टर ने शिक्षार्थियों के ऑनलाइन एंट्री की भी समीक्षा की तथा एंट्री में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 17 मार्च 2024, रविवार को प्रातः 10 बजे से सायं 5 बजे तक राष्ट्रव्यापी बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। शिक्षार्थी सुविधानुसार उक्त समय के भीतर जब भी परीक्षा कक्ष में आए, उसे सम्मिलित किया जाए तथा शिक्षार्थी को प्रश्न पत्र हल करने के लिए 3 घण्टे का समय दिया जाए। परीक्षा में ऐसे शिक्षार्थी, जिनका पूर्व में पढ़ना-लिखना अभियान अंतर्गत प्रमाणीकरण नहीं हुआ है, जो मोहल्ला साक्षरता केन्द्र में पढ़ाई किए हो अथवा जो बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान की परीक्षा में शामिल होना चाहते है, उनको शामिल करें।

कलेक्टर श्री महोबे ने परीक्षा केंद्र में शिक्षार्थियों के लिए पेयजल, प्रकाश व्यवस्था,  बैठने के लिए टेबल-कुर्सी की समुचित व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए साथ ही 17 मार्च 2024 को कम से कम तीन दिवस पूर्वक ग्राम वार्ड प्रभारी, स्वयंसेवी शिक्षक की सहायता से प्रत्येक पंजीकृत शिक्षार्थी के घर-घर संपर्क कर शिक्षार्थी पर्ची का वितरण करने के निर्देश दिए। शिक्षार्थी का नाम, नामांकन क्रमांक , परीक्षा की तिथि समय व परीक्षा केंद्र का नाम स्पष्ट लिखा हो। उन्होंने अधीनस्थ अधिकारियों को परीक्षा की मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए।

जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री संदीप कुमार अग्रवाल ने बताया कि जिन स्थानों पर शिक्षार्थी कम हैं वहां ग्राम पंचायत अथवा नगरीय निकाय के वार्ड के नजदीक शासकीय स्कूल को परीक्षा केंद्र बनाया जा रहा है ताकि किसी भी स्थिति में शिक्षार्थियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाना ना पड़े। जिला परियोजना अधिकारी श्री अवधेश नंदन श्रीवास्तव ने बैठक में बताया कि चारों विकासखंड परियोजना अधिकारियों के द्वारा इस परीक्षा महाअभियान के लिए आवश्यक तैयारी की जा रही हैं ताकि सभी पंजीकृत शिक्षार्थियों को परीक्षा में सम्मिलित किया जा सके इसके लिए स्वयं सेवी शिक्षकों की भी सहायता ली जा रही है। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी श्री महेंद्र गुप्ता, डाइट प्राचार्य श्री टी एन मिश्रा, डीएमसी श्री विनोद श्रीवास्तव सहित सीईओ जनपद पंचायत,विकासखंड शिक्षा अधिकारी, सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी, खंड स्त्रोत समन्वयक, विकासखंड परियोजना अधिकारी, नोडल अधिकारी, रिसोर्स पर्सन एवं लिपिकगण उपस्थित थे