Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

किसान महाकुंभ नहीं ये भाजपा का चुनावी कुम्भ था किसानों ने बनाई दूरी, राजनाथ सिंह दिल्ली में किसानों को घुसने नहीं दे रहे हैं और छत्तीसगढ़ में महाकुंभ के नाम से राजनीति कर रहे हैं, भाजपा ने हमेशा किसानों को धोखा दिया

रायपुर रायपुर/ भाजपा के किसान महाकुंभ को चुनावी कुंभ करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राजनाथ सिंह...

Also Read

रायपुर







रायपुर/ भाजपा के किसान महाकुंभ को चुनावी कुंभ करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राजनाथ सिंह कि सरकार दिल्ली में किसानों को घुसने से रोकने सड़को पर क्रांकिट कि दीवाल उठाते हैं लोहे कि कील ठोकवाते हैं. पानी की बौछार करते हैं आंसू गैस के गोले और रबर बुलेट चलवाते हैं और छत्तीसगढ़ में आकर किसानों के हितैषी होने का ढोंग करते हैं यह किसान महाकुंभ नहीं था ये भाजपा का चुनावी कुंभ था जिससे किसानों ने दूरियां बना ली. भाजपा का चरित्र किसान विरोधी है यह देश के किसान बीते 10 वर्षों से देख रहे. मोदी सरकार में किसानों की आमदनी दोगुनी नहीं हुई ही उपज की लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य नहीं मिला है बल्कि परेशानियां तीन गुनी बढ़ी हुई है समय पर किसानों को खाद नहीं मिलता है कृषि यंत्रों पर मनमाना जीएसटी लिया जाता है डीजल पर किसानों को मिलने वाले सब्सिडी खत्म कर दी गई है. मोदी सरकार बनने के बाद देश के किसानों के ऊपर में 21 लाख करोड़ से अधिक का कर्ज चढ़ गया हैं किसानो की आत्महत्या की घटनाएं बढ़ी है. किसान हताश और परेशान है. 80 करोड़ जनता दो वक्त का भोजन खरीद नहीं पा रहे है, 5 किलो राशन पर निर्भर है 23 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे चले गये।


प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि साय सरकार ने किसानों से वादानुसार प्रति एकड़ 21 क्विंटल धान की खरीदी और 3100 रुपया प्रति क्विंटल एक मुश्त पंचायत भवन में नगद देने, और प्रत्येक किसान का 2 लाख रु तक के कर्ज माफी के वादे को पूरा नहीं कर पाई है. साय सरकार 100 दिन में 13000 करोड रुपए का कर्ज लेकर सिर्फ मोदी का गुणगान कर रही है विज्ञापन बाजी कर रही है.


प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने के 2 घंटे के भीतर प्रदेश के 20 लाख किसानों को कर्ज मुक्त किया था.धान की कीमत 2500 प्रति क्विंटल दिया था 20 क्विंटल धान की खरीदी की शुरुआत की,किसानों को मुफ्त में बिजली दी. धान उत्पादक किसान के अलावा गाना मक्का दलहन तिलहन कोदो कुटकी फलदार वृक्ष और सब्जी लगाने वाले किसानों को भी प्रति एकड़ 10000 रु के प्रोत्साहन राशि दिया. कांग्रेस ने केंद्र में सरकार बनने पर किसानों को एमएसपी की कानूनी गारंटी देने का वादा किया है.




 


 महतारी वंदन योजना से लाखों महिला वंचित फिर कैसे पूरा हुआ मोदी की गारंटी ?


रायपुर /10 मार्च 2024/ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि महतारी वंदन योजना फैल हो गई।ये भी अन्य घोषणाओं की तरह सिर्फ जुमला साबित हुआ उन्होंने कहा कि महतारी वंदन योजना के लाभ से लाखों महिला वंचित हो गई है फिर ऐसे में कैसे मोदी की गारंटी पूरा हुआ? साय सरकार ने 70 लाख हितग्राहियों के खाता में किस्त डालने का दावा किया था आज लाखों हितग्राहियों के खाता में किस्त की राशि नहीं पहुंची है। और जिनके खाता में पैसा पहुंचा है उन्हें मात्र 1000 रु मिला है जबकि जनवरी-फरवरी और मार्च 3 महीने की एक मुश्त 3000 रु की राशि प्रथम किस्त में हितग्राहियों के खाता में जमा होना था।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि महतारी वंदन योजना के नाम से साय सरकार महिलाओं को सिर्फ दफ्तरों के चक्कर लगवाते रही है और आगे भी उन्हें दफ्तरों के चक्कर लगवाने की इनकी मंशा है।लोकसभा चुनाव के बाद अभी जिन महिलाओं के खाता में 1000 रु ट्रांसफर किया गया है उन महिलाओं को भी इस योजना से वंचित कर दिया जाएगा इस योजना में जिस प्रकार से नियम शर्ते लगाई गई है उसे प्रदेश के लाखों महिला बाहर हो जाएंगे। जिन महिलाओं को पहले से वृद्धा पेंशन ,परित्यक्ता पेंशन और अन्य योजनाओं के अंतर्गत कांग्रेस सरकार के दौरान से जो पेंशन मिलता रहा है उसे पेंशन की राशि को बंद कर दिया गया है।



प्रेस विज्ञप्ति



 एसबीआई भाजपा के अवैध उगाही को उजागर करने से क्यों डर रही है?


रायपुर/10मार्च 2024। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा ने  इलेक्ट्रोरल बॉन्ड  के जरिए हजारों करोड रुपए की अवैध उगाही की है। इलेक्ट्रोरल बॉन्ड से भाजपा को हजारों करोड़ रुपए देने वाले कौन लोग हैं? इसकी जानकारी एसबीआई को देने में ऐतराज़ क्यों है? बीते 10 वर्षों में मोदी की सरकार ने जिन उद्योगपतियों को सरकारी कंपनियों को कौड़ी के मोल बेचा है। बैंकों के कर्जदार पूंजीपतियों को राहत पहुंचाने के लिए काम किया है वहीं लोगों ने इलेक्ट्रोरल बॉन्ड के माध्यम से करोड़ों रुपए भाजपा को बतौर चंदा दिया है? अब माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के बाद भी एसबीआई हठधर्मिता दिखाते हुए भाजपा के अवैध कमाई को पर्दा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की अवहेलना कर रही है और देश की जनता के आंखों में धूल झोंक रही है।


 प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि जब एसबीआई पूर्णता: डिजिटल है. सारे रिकार्ड कंप्यूटराइज्ड है ऐसे में चुनावी बांड  खरीदने वालों के नाम उजागर करने में एसबीआई को इतना समय क्यों चाहिए? एसबीआई के अधिकारी केंद्र सरकार के दबाव में उन नाम को उजागर करने से डर रही है. 48 करोड़ अकाउंट, 66 हज़ार एटीएम और 23 हज़ार ब्रांच संचालित करने वाली SBI को केवल 22217 इलेक्टोरल बॉंड की जानकारी देने के लिये 5 महीने का समय चाहिए ?सवाल उठता है कि क्या देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक भी अब बीजेपी सरकार की आर्थिक अनियमितता और कालेधन के स्रोत को छिपाने का ज़रिया बन रहा है।



प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा को इलेक्ट्रोरल बॉन्ड के माध्यम से आर्थिक मदद करने वालों में कई बीफ सप्लायर कंपनियां भी हो सकती है? कई तस्करी में शामिल लोग भी हो सकते हैं? जुआ सट्टा खिलाने वाले लोग भी सहयोगी हो सकते हैं? कुछ विदेशी कंपनिया जो भारत में व्यापार कर रही है यह भी लोग अपने व्यापार व्यवसाय को संरक्षण देने के लिए भाजपा को इलेक्ट्रोरल बॉन्ड के माध्यम से मदद किए हैं? कई फर्जी एनजीओ संचालित करने वाले लोग भी सरकारी योजनाओं का लाभ लेकर बतौर कमीशन भाजपा को इलेक्ट्रोरल बॉन्ड से चंदा दिए हैं? 35 से अधिक ऐसी कंपनियां है जिसके यहां ईडी छापा मार कार्यवाही करती है और वही कंपनियां एक दिन में भाजपा को 30 करोड़ रुपए से अधिक की चंदा  इलेक्ट्रोरल  बॉन्ड के माध्यम से देती है।