Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

कैबिनेट बैठक को लेकर मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल का बयान, कहा- छत्तीसगढ़ के हित में लिए जा सकते हैं बड़े फैसले

  रायपुर।   साय कैबिनेट की बैठक आज नया रायपुर स्थित मंत्रालय में होने जा रही है. कैबिनेट मीटिंग को लेकर स्वास्थ्य मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल...

Also Read

 रायपुर। साय कैबिनेट की बैठक आज नया रायपुर स्थित मंत्रालय में होने जा रही है. कैबिनेट मीटिंग को लेकर स्वास्थ्य मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल ने बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कैबिनेट रूटीन विषय होता है सभी विभागों के नए मंत्रिमंडल का गठन हुआ है. छत्तीसगढ़ के जनहित के लिए जो अच्छा होगा वह बड़े फैसले पर चर्चा होगी. मोदी की गारंटी के हर पहलू को पूरा करेंगे. इसके साथ ही मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल ने अन्य मुद्दों पर बयान दिया है.22 जनवरी को ड्राई डे घोषित किये जाने पर मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ भगवान राम का ननिहाल है, माता कौशल्या की धरती है. 500 साल बाद भगवान का घर में प्रवेश होगा, 500 साल भगवान राम ने बाहर में जीवन बिताया. अयोध्या के बाद छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा खुशी है. इसलिए उस दिन को ड्राई डे घोषित किया गया है इसके साथ ही उत्साह में किसी प्रकार के कोई घटना ना हो. इस लिए ये फैसला लिया गया है.कांग्रेस कह रही है महतारी वंदन योजना की राशि कम है, इस पर मंत्री श्यामबिहारी ने कहा कांग्रेस अपने गिरेबान में झांक कर देखे, गंगाजल हाथ में रखकर कसम खाए थे. यह शब्द बोलने का अधिकार कांग्रेस को नहीं है. माता-बहनों को मोदी ने जो गारंटी दिया है, उसके बजट के लिए 1200 का प्रावधान किया है. आवश्यकता पड़ने पर और प्रावधान करेंगे. 1200 करोड़ से अधिक की आवश्यकता पड़ी तो दूसरे मद से इस राशि को पूर्ति करेंगे. कांग्रेस क्यों चिंता कर रही है? जनता से पहले माफी मांगे. माता बहनों को 500 बोलकर 5 सालों से नहीं दिया, हम तो देने जा रहे हैं, सभी को देंगे.आयुष्मान योजना को लेकर मंत्री जायसवाल ने कहा कि प्रदेश में किसी को भी स्वास्थ्य समस्या है उसके इलाज के लिए हम राशि 10 लाख करने जा रहे हैं. मोदी की गारंटी को निकट भविष्य में 10 लाख तक की सुविधा देंगे.



कोरोना के बढ़ते मामलें पर स्वास्थ्य मंत्री श्यामबिहारी जायसवाल ने कहा कि पूरे मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना की तैयारी है. ढाई लाख से ऊपर की स्थिति आती है तो हमारे पास व्यवस्था है. परंतु हम कोशिश कर रहे हैं ज्यादा से ज्यादा चेक करवा रहे हैं. कोरोना की एंट्री ना हो इस दिशा में सभी से अपील है जो कोरोना के नियम है उसका पालन करें.