Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्कूल शिक्षा सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुरूप पाठ्यक्रम बनाए जाने पर दिया जोर …

  रायपुर।  स्कूल शिक्षा सचिव सिध्दार्थ कोमल परदेशी ने मंगलवार को एससीईआरटी में अपनी पहली समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि हमें नवनि...

Also Read

 रायपुर। स्कूल शिक्षा सचिव सिध्दार्थ कोमल परदेशी ने मंगलवार को एससीईआरटी में अपनी पहली समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि हमें नवनियुक्त शिक्षकों को ऐसा प्रशिक्षण प्रदान करना है। जिससे शिक्षा गुणवत्ता में सुधार हो सके यह प्रशिक्षण 5 दिन से अधिक हो और जिला एवं ब्लॉक मुख्यालय में ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन प्रशिक्षण भी किए जाने की व्यवस्था करें। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के त्वरित क्रियान्वयन के लिए दूसरे राज्यों के बेस्ट प्रैक्टिसेज और एनसीईआरटी में जाकर अवलोकन करने के निर्देश भी दिए।


छत्तीसगढ़ के स्कूलों में अलग-अलग किताबें पढ़ाई जाने की जानकारी पर उन्होंने इसकी मॉनीटरिंग कर रिपोर्ट तत्काल दिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बालक पालक सम्मेलन को सशक्त बनाने समावेशी शिक्षा योग की शिक्षा को प्रत्येक स्कूल तक पहुंचाने बोर्ड की कक्षाओं 10वीं और 12वीं के लिए पाठ्यक्रम तैयार करने उन्होंने इस बात पर जोर दिया।प्रशिक्षण धरातल पर पहुंचे इसके लिए एस सीईआरटी डाइट के सहयोग से सघन एकेडमी मॉनिटरिंग करने और शिक्षकों को ज्यादा से ज्यादा संवेदनशील बनाए जाने की दिशा में कार्य करने के निर्देश दिए। इससे पूर्व दोपहर परदेसी ने एस सीईआरटी के डायरेक्टर राजेंद्र कुमार कटारा अतिरिक्त संचालक जे पी रथ संयुक्त संचालक के कुमार के साथ एस सीईआरटी के प्रत्येक कक्ष का अवलोकन किया और वहां चल रहे प्रशिक्षण कार्यशाला में भी शिक्षकों से बातचीत की।पुस्तकालय को व्यवस्थित किए जाने और शिक्षकों के अनुरूप ज्यादा से ज्यादा किताबें उपलब्ध कराने के लिए कहा। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुरूप पाठ्यक्रम बनाए जाने पर जोर दिया।