Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

मशहूर चाइल्ड आर्टिस्ट रहे जूनियर महमूद का निधन,पेट के कैंसर से अपनी जिंदगी की जंग लड़ रहे थे.

  Mehmood Junior passes away:   बॉलीवुड के मशहूर चाइल्ड आर्टिस्ट रहे जूनियर महमूद (Mehmood Junior) का निधन हो गया है. एक्टर पिछले कई दिनों स...

Also Read

 Mehmood Junior passes away: बॉलीवुड के मशहूर चाइल्ड आर्टिस्ट रहे जूनियर महमूद (Mehmood Junior) का निधन हो गया है. एक्टर पिछले कई दिनों से पेट के कैंसर से अपनी जिंदगी की जंग लड़ रहे थे. उन्होंने 67 साल की उम्र में जूनियर महमूद उर्फ नईम सैय्यद ने दुनिया को अलविदा कह दिया. हाल में ही उनसे मिलने जॉनी लिवर, सचिन पिलगांवकर और जितेंद्र पहुंचे थे. जूनियर महमूद के दोस्त सलाम काजी ने एक्टर के निधन की पुष्टि की.

सलाम काजी ने बताया कि महमूद लंग्स और लीवर के कैंसर से जूझ रहे थे. हाल में ही उनकी आंत में भी ट्यूमर की शिकायत आई थी. वह चौथे स्टेज के कैंसर से लड़ रहे थे. मगर बीती रात एक्टर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. जूनियर महमूद का अंतिम संस्कार शुक्रवार को करीब 12 बजे तक किया जाएगा. सांता क्रूज वेस्ट में ही ये अंतिम प्रक्रिया की जाएगी.

जितेंद्र से मिलने की जताई थी इच्छा, पूरी की आखिरी ख्वाहिश

एक ट्विटर यूजर ने जूनियर महमूद की पुरानी फोटो को शेयर करते हुए उनकी इच्छा के बारे में बात की थी. शख्स ने लिखा था, ‘जूनियर महमूद, जो कि बीते जमाने के सबसे प्यार चाइल्ड स्टार रहे हैं, अस्पताल में अपने स्टेज 4 कैंसर का इलाज करवा रहे हैं. उन्होंने जितेंद्र से मिलने की इच्छा जताई है, जिनके साथ उन्होंने कई फिल्मों में काम किया. और वो चाहते हैं कि उनके बचपन के दोस्त सचिन पिलगांवकर उनसे मुलाकात करने आएं. मैं जितेंद्र जी और सचिन जी से अनुरोध करता हूं कि उनकी इस इच्छा को पूरा कर दीजिए क्या पता ये उनकी आखिरी ख्वाहिश साबित हो.’

जिसके बाद उनसे मिलने जितेंद्र, सचिन पिलगांवकर और जॉनी लिवर पहुंचे थे. जूनियर महमूद से मुलाकात के बाद जितेंद्र काफी इमोशनल भी हुए. उनकी आंखों में महमूद की हालत देखकर आंसू भी आ गए थे.

जानिए जूनियर महमूद के बारे में

जूनियर महमूद का जन्म वर्ष 1956 में मुम्बई में हुआ. जूनियर महमूद का असली नाम नईम सय्यद है. उन्होंने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट की थी. महमूद एक जमाने में इंडस्ट्री का जाना-माना नाम थे. उनको ‘बचपन’, ‘गीत गाता चल’, ‘कटी पतंग’, ‘मेरा नाम जोकर’, ‘ब्रह्मचारी’ संग अन्य फिल्मों में देखा गया था. उनके साथ दोस्त सचिन पिलगांवकर को भी कई फिल्मों में देखा गया था. दोनों की जोड़ी काफी सफल रही थी.