Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

लाल किला घूमने आए पर्यटकों के साथ ठगी गिरोह का खुलासा

नई दिल्ली.  यदि आप लाल किला घूमने आने का मन बना रहे हैं तो जरा सावधान हो जाएं. उत्तरी जिला के कोतवाली थाना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा क...

Also Read

नई दिल्ली. यदि आप लाल किला घूमने आने का मन बना रहे हैं तो जरा सावधान हो जाएं. उत्तरी जिला के कोतवाली थाना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो लाल किला घूमने आए पर्यटकों के साथ ठगी करते थे. आरोपी सस्ते में मोबाइल बेचने के नाम पर महंगे मोबाइल फोन की डमी (नकली मोबाइल) थमाकर रफूचक्कर हो जाते थे.

पुलिस ने इस संबंध में तीन आरोपियों को दबोचा है. इनमें दुकान का मालिक संजीव कश्यप भोला, इसका सहयोगी यश भदोरिया और पर्यटकों को फंसाने वाले मोहम्मद नईम शामिल है. पुलिस ने आरोपियों के पास से छह डमी मोबाइल फोन, एक डमी घड़ी और अन्य सामान बरामद किया है उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त मनोज कुमार मीना ने बताया कि तीन दिसंबर को मध्य प्रदेश निवासी राजेंद्र पटेल ने ठगी की एक शिकायत कोतवाली थाना पुलिस को दी थी. राजेंद्र ने बताया कि वह अपने दोस्त प्रदीप गुप्ता के साथ लालकिला घूमने के लिए आया था. इस बीच सुबह करीब 8.30 बजे उसे एक व्यक्ति मिला. आरोपी ने पीड़ित को एक आईफोन दिखाकर उसे बहुत कम दामों में देने की बात की. उसने कहा यह तो सैंपल है. नया फोन में दुकान से मिल जाएगा. आरोपी पीड़ितों को ओल्ड लाजपत राय मार्केट, चांदनी चौक ले जाया. यहां दुकान पर मौजूद दुकानदार ने उसे वन प्लस कंपनी का फोन दिखाया जो देखने में बिल्कुल नया था. 65 हजार के मोबाइल को हजार में बेच दिया गया. दुकान पर कुछ और लोगों ने भी राजेंद्र को बताया कि मोबाइल बहुत कम दामों में बेचा जा रहा है. आरोपियों ने सौदे के समय पीड़ित को मोबाइल के फीचर्स नहीं देखने दिए. पेमेंट होने के बाद पीड़ित ने मोबाइल हाथ में लेकर देखा तो वह डमी निकला. विरोध करने पर आरोपियों ने धक्का-मुक्की कर उसे दुकान से भगा दिया. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया. दुकान पर छापेमारी की गई, लेकिन वह बंद मिली.

रायपुर. प्रदेश में आचार सहिंता हटते ही तबादलों का दौर शुरू हो गया है. इसी कड़ी में एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने 5 थाना प्रभारियों का ट्रांसफर कर दिया है.जारी आदेश के मुताबिक अविनाश सिंह को थाना पंडरी, जितेंद्र ताम्रकार को थाना सिटी कोतवाली, विनित दुबे को थाना धरसींवा, शिवेंद्र राजपूत को थाना डीडी नगर और गिरीश तिवारी को प्रभारी डीसीबी/डीसीआरबी बनाया गया है.