Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

EVM जमा कर घर लौट रहे 3 शिक्षकों की मौत, प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ने निर्वाचन आयोग से पीड़ित परिवारों के लिए मंगा 1 करोड़ मुआवजा

  कोंडागांव।  छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में विधानसभा चुनाव कराकर मतपेटियां जमा करने के बाद लौट रहे तीन कर्मचारियों की मौत हो गई है. तीनों मृतक श...

Also Read

 कोंडागांव। छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में विधानसभा चुनाव कराकर मतपेटियां जमा करने के बाद लौट रहे तीन कर्मचारियों की मौत हो गई है. तीनों मृतक शिक्षक थे, इस हादसे के बाद छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ने शिक्षकों के आकस्मिक निधन पर गहरी संवेदना प्रकट करते हुए निर्वाचन आयोग और राज्य सरकार से उनके परिवार को एक करोड़ रूपये मुआवजा राशि देने की मांग की है. छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन ने हादसे के बाद कलेक्टर कोंडागांव, CEO जिला पंचायत कोंडागांव और जिला शिक्षा अधिकारी मधुलिका तिवारी से टेलीफोनिक चर्चा करते हुए उनके परिवार को मिलने वाली अनुग्रह राशि को आज ही प्रदान किए जाने की मांग की है, जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी मधुलिका तिवारी ने खुद पीड़ित परिवारों को 50-50 हजार की अनुग्रह राशि प्रदान की.


प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ने निर्वाचन आयोग से की मांग

केदार जैन ने निर्वाचन आयोग से मांग करते हुए कहा है कि भविष्य में होने वाले निर्वाचन कार्य को और अधिक सरलीकरण किया जाए. जिससे शिक्षक और कर्मचारियों पर मानसिक दबाव न हो, उनके दिनचर्या में किसी भी प्रकार का प्रतिकुल प्रभाव न पड़े जिससे कि इस तरह की अप्रिय घटनाएं दोबारा घटित हो. ऐसा वातावरण स्थापित कर कार्य किए जाने की आवश्यकता है. छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन और पदाधिकारी यशवंत देवांगन, शिवराज सिंह ठाकुर,कौशल नेताम, रामदेव कौशिक, रोशन हिरवानी,निर्मल पांडे, मिट्ठू मांझी ने तीनों शिक्षकों की आकस्मिक मृत्य पर गहरी संवेदना प्रकट करते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की है.

आज सुबह 4 बजे हुआ हादसा

बता दें कि मुताबिक आज सुबह करीब 4 बजे बहिगांव के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर ट्रक और बोलेरो के बीच जबरदस्त टक्कर हो गई. इस हादसे में विधानसभा चुनाव कराकर मतपेटियां जमा करने के बाद कोंडागांव से लौट रहे शिक्षक शिव नेताम बेड़मा, संतराम नेताम (अंचलापारा धनोरा ) और हरेंद्र उईके की मौत हो गई. हादसे के बाद मृतक शिव नेताम घंटों गाड़ी में ही फसा रहा, जिसे पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला. हादसे में घायल हरेंद्र उईके को केशकाल अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने दम तोड़ा. तीनों की शिक्षकों की मौत से उनके परिचितों और परिवार में शोक की लहर है.