Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

उज्जैन जिले में चोरों का एक अजब कारनामा - 60 किलो वजन वाली अलमारी के साथ 54 लाख रुपये कैश लेकर फरार चोर, किसान खेत बेचकर रखा था पैसा

उज्जैन । असल बात न्यूज़।।   मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में चोरों का एक अजब कारनामा सामने आया है। जिले के इंगोरिया में एक किसान ने खेत बेचक...

Also Read

उज्जैन ।

असल बात न्यूज़।।  

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में चोरों का एक अजब कारनामा सामने आया है। जिले के इंगोरिया में एक किसान ने खेत बेचकर 54 लाख रुपये कैश घर की अलमारी में रखे। घर में सेंध लगाकर चोर 60 किलो वजन वाली लोहे की अलमारी लेकर फरार हो गए। चोर अलमारी को घर से 100 मीटर दूर खेतों में ले गए और वंहा अलमारी का ताला तोड़कर 54 लाख रुपये नगद के साथ सोने-चांदी के आभूषण ले उड़े। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और डॉग स्कॉट के साथ फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट के साथ एफएसएल टीम को बुलाया गया। 

पुलिस को आशंका है कि इस चोरी में किसी परिचित का हाथ है। उज्जैन जिले से करीब 22 किलोमीटर दूर इंगोरिया थाना क्षेत्र के चिकली गांव में किसान दुर्गेश मदनलाल पाटीदार ने अपनी 3 बीघा जमीन बेची थी। जिसकी एवज में उसे 54 लाख रुपए मिले थी। यह रुपए पाटीदार ने अपने घर की लोहे की अलमारी में रखे हुए थे। घर में दो लोहे की अलमारी और रखी हुई है लेकिन चोरों ने जिसमें पैसे रखे थे उसी अलमारी को उठाया। इससे ये शंका बनती है कि चोरों के साथ कोई खास आदमी जुड़ा है जिसे इस बात की जानकारी थी कि पैसे किस अलमारी में हैं। घटना के समय किसान के परिवार के 10 सदस्य अलग-अलग कमरों में सो रहे थे। किसान और उनके परिवार को खिड़की तोड़ने से अलमारी ले जाने की आहट तक नही मिली। 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया ने बताया,"चोरी की रिपोर्ट दर्ज की गई है इतनी बड़ी चोरी होने के कारण मैं खुद मौके पर पहुंचा था और जांच शुरू की है। जांच में पाया कि फरियादी के घर में 1 हॉल समेत तीन कमरे हैं। एक कमरे में उसका छोटा बेटा वह उसका परिवार दूसरे में बड़ा बेटा तथा तीसरे कमरे में परिजन सो रहे थे। कमरे के अंदर किसी प्रकार का कोई दरवाजा नहीं है सिर्फ परदे लगे हुए हैं, बदमाश खिड़की तोड़कर घर में दाखिल हुए हैं और लोहे की भारी अलमारी उठाकर पीछे का दरवाजा खोल खेतों में ले गए हैं। इस दौरान परिवार के किसी सदस्य की नींद भी नहीं खुली इसलिए आशंका है कि बदमाशों ने किसी स्प्रे या कोई अन्य चीज का प्रयोग किया होगा।"

फरियादी के परिवार ने बताया

किसान के परिवार से बात करने पर पता चला कि 1 बजे तक सभी लोग जाग रहे थे और सुबह 4 बजे घर के सभी सदस्यों की नींद खुल गई थी नशा या आंखों में जलन जैसी कोई बात नहीं आई जैसे रोज उठते हैं उसी तरह उठे थे। और किसी प्रकार की घबराहट भी महसूस नहीं हुई।

जांच में जुटी एक्सपर्ट टीम

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के अनुसार सूचना पर डॉग स्क्वॉड, फिंगरप्ट एक्सपर्ट और एफएसएल की टीम को बुलाया गया था। उन्होंने घटना के आसपास के क्षेत्रों का निरीक्षण किया है। खिड़कियों और अलमारी पर बदमाशों के फिंगरप्रिंट पाए गए हैं। इस दौरान डॉग स्क्वॉड घटनास्थल से खेत में ही काफी दूर तक घूमता रहा जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बदमाश खेत के रास्ते से ही आए थे और वारदात कर उसी रास्ते से निकल गए। इस मामले में साइबर सेल की टीम को भी सुराग पता करने में लगाया गया है और संदेही से पूछताछ की जा रही है।