बच्चा, अभी भी 9 मीटर दूर, रेस्क्यू कार्य में लगी है 9 भारी गाड़ियां

 

रायपुर, जांजगीर चांपा।

असल बात न्यूज़।। 

        00  विशेष संवाददाता 

0 अंधेरा घिरने के पहले  तक की रिपोर्ट


अब शाम ढलती जा रही है, थोड़ी देर में अंधेरा घर आने लगेगा। सुबह के बाद दोपहर तक लोगों का उत्साह काफी बढ़ा हुआ देख रहा था तथा लोग अनुमान लगा रहे थे कि रात घिरने के पहले खुशी की खबर मिल जाएगी। बोर के गड्ढे से राहुल को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा। रोबोटिक्स की टीम ने, इसके लिए दोपहर के बाद जो प्रयास किया उसमें सफलता नहीं मिली, संभवत राहुल की तरफ से रिस्पांस नहीं मिला, इसलिए रोबोटिक्स की टीम का काम रोकना पड़ा। टनल के माध्यम से राहुल तक पहुंचने में देरी है क्योंकि टनल बनाना आसान काम नहीं है। जानकारी के अनुसार अभी भी लगभग 9 फीट की गहराई तक नीचे पहुंचना शेष है। इसके बाद गड्ढे का काम शुरू किया जाएगा।अब तक हुए गड्ढे की ऊँचाई नापी जा रही है। सुकून की बात है कि रेस्क्यू कार्य में मौसम की वजह से आज कोई बाधा पहुंचने की नौबत नहीं आई है।

नए अपडेट के अनुसार एसईसीएल खदान कुसमुंडा और मानिकपुर, मनेन्द्रगढ़ से भी रेस्क्यू टीम  पहुच गई है।इन टीम के सदस्यों ने खदान में अचानक ऊपर की छत को धसने से बचाने, गैस रिसाव को रोकने जैसे कार्य किया हुआ है और इस समय यहां ऐसे ही कार्यों के अनुभवी लोगों की काफी अधिक जरूरत समझी जा रही है।

अंडरग्राउंड खदान में अचानक होने वाली दुर्घटनाओं के समय राहत और बचाव करने वाली यह टीम कई उपकरणों के साथ पहुची हुई है और प्रशासन के निर्देशन में काम कर रही है।

ऑफिसर इंचार्ज जी पी शुक्ला कुसमुंडा खदान रेस्कयू स्टेशन कोरबा के  नेतृत्व में 10 सदस्यीय टीम मौजूद है। मनेन्द्रगढ़ खदान से श्रीकांत राव भी रेस्कयू के लिए है। 

मौसम के हिसाब से देखें तो रेस्क्यू कार्य के लिए आज मौसम काफी उपयुक्त नजर आ रहा है। यहां हवा में हल्की ठंडक बनी हुई है। दूसरी तरफ आज दूर बड़ी भरी आंधी नहीं चली है और दिन भर धूप निकली रही है। इससे अभी ऐसा लग रहा है कि यहां बारिश होने की फिलहाल कोई संभावना नहीं है।

कलेक्टर जितेंद्र शुक्ला सहित सभी अधिकारियों द्वारा किया जा रहा अवलोकन।

सुरंग बनाने खदान में रेस्क्यू करने वाली कुसमुंडा और मनेन्द्रगढ़ के एसईसीएल के अधिकारियों से कर रहे आवश्यक चर्चा।

टोटल स्टेशन से ली गई गहराई के नाप के अनुसार अभी 61.5 फीट है।बच्चा 9 मीटर दूर है।

कुछ देर में रेस्कयू टीम को नीचे उतारा जाएगा। 

जिला प्रशासन द्वारा आपात चिकित्सा व्यवस्था की गई है

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित डाक्टरों की टीम मौजूद है। ऑक्सीजन के पर्याप्त सिलेंडर रखे गए हैं।

फायर ब्रिगेड भी मौजूद है।

अतरिक्त जेसीबी, पोकलेन ,हाइवा भी मंगाए गए हैं

कोरबा, झारखंड से भी खदान एक्सपर्ट और कई मशीने ड्रिल तथा अन्य कार्य के लिए मंगाई गई है।






असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय  

आप सभी असल बात न्यूज़ के साथ बने रहिए। हम अपने सहयोगी के साथ वहां की प्रत्येक गतिविधियों से आपको लगातार अपडेट करते रहेंगे। 

 पल-पल की खबरों के साथ अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता