रसायन विभग द्वारा आयोजित 15 दिवसीय सर्टिफिकेट कार्यक्रम का समापन

 

भिलाई। असल बात न्यूज़।

सेंट थॉमस महाविद्यालय के रसायन स्नातकोत्तर विभाग एवं शासकीय स्नातकोतर महाविद्यालय कवर्धा के संयुक्त तत्वावधान में “पानी की गुणवत्ता” विषय पर  15 दिवसीय सर्टिफिकेट कार्यक्रम आयोजित किया गया| इस कार्यक्रम में विभिन्न संस्थाओं के 150 प्रतिभागियों ने कार्यक्रम में भाग लिया|

 शासकीय स्नातकोतर महाविद्यालय कवर्धा के प्राचार्य डॉ डी. बी. एस. चौहान ने सभी का स्वागत किया| समापन समारोह में जल शक्ति एवं जल संसाधन विभाग के वैज्ञानिक एवं केन्द्रीय भूजल बोर्ड नागपुर के डॉ. देवशरण वर्मा मुख्य वक्ता थे| डॉ. देवशरण वर्मा ने अपने वक्तव्य में पानी के संरक्षण के बारे में बताते हुए पानी के स्तर को बढ़ाने के विभिन्न तरीके बताये| उन्होंने सेंट थॉमस महाविद्यालय एवं शासकीय स्नातकोतर महाविद्यालय कवर्धा द्वारा इस वर्तमान सम्बन्धित विषय पर सर्टिफिकेट कार्यक्रम के आयोजन की सराहना की| उन्होंने यह भी कहा कि केवल सरकारी नीतियां ही पानी की कमी की समस्या को दूर नहीं कर सकती| इसके लिए इस प्रकार के कार्यक्रमों के माध्यम से जनता में भूजल के बारे में जागरूकता लाना भी आवश्यक है| कार्यक्रम की संक्षिप्त रिपोर्ट महाविद्यालय के रसायन विभाग की सहायक प्राधयापक एवं कार्यक्रम की सह-संयोजक डॉ. चंदा वर्मा ने प्रस्तुत की|

 कार्यक्रम का संचालन माइक्रोबायोलॉजी एवं बायोटेक्नोलोजी शासकीय स्नातकोतर महाविद्यालय कवर्धा  की सहायक प्राध्यापक डॉ. रिचा मिश्रा द्वारा किया गया एवं धन्यवाद ज्ञापन सेंट थॉमस महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक डॉ. अरविद कुमार साहू द्वारा दिया गया| समापन समारोह में सेंट थॉमस महाविद्यालय के रसायन विभाग के विभागाध्यक्ष एवं कार्यक्रम के संयोजक डॉ. जेम्स मैथ्यू एवं रसायन विभाग कवर्धा स्नातकोत्तर महाविद्यालय की विभागाध्यक्ष डॉ दीप्ति जांगड़े उपस्थित थे|