लॉक डाउन में भी घरेलू बिजली बिल रहेगा सामान्य

 

छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कम्पनी समाचार

 
 रायपुर । असल बात न्यूज।

बिजली बिल उपभोक्ताओं को मीटर reading  नहीं होने पर औसत बिल  दिया जा रहा है। यह औसत बिल भी सामान्य बिल के आस पास ही रहेगा। अगले महीने में मीटर रीडिंग कर वास्तविक बिल दिया जाएगा ।

प्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर को तोड़ने प्रशासन के निर्देशानुसार लाकडाउन लगा हुआ है। ऐसी परिस्थिति में जिन घरेलू बिजली उपभोक्ताओं की मीटर रीडिंग नहीं हो पाई है उन्हें औसत बिजली बिल देने का निर्णय लिया गया है। 
 इस कोरोना संक्रमण के कठिन समय में औसत बिलिंग भी सामान्य माहों की ही भांति हो , इस हेतु बिलिंग सॉफ्टवेयर में  पावर कम्पनी द्वारा युक्तियुक्त प्रावधान किया गया है ।परिणाम स्वरूप औसत बिल भी पूर्व में आ रहे बिल के आसपास का ही रहेगा। यह जानकारी पावर डिस्ट्रीब्यूशन कम्पनी के एम डी  हर्ष गौतम ने दी।  उन्होंने  बताया कि उपभोक्तागण यदि चाहें तो पहले की भांति ही अपने बिजली मीटर की रीडिंग को मोर बिजली एप्प में दर्ज  कर रीडिंग के आधार का बिजली बिल अब भी प्राप्त कर सकेंगे।
आगामी  माह में  वास्तविक रीडिंग बिल जारी होने पर ,औसत बिलिंग का समायोजन भी होगा ,और उपभोक्ताओं को  खपत यूनिट के स्लैब के लाभ के साथ साथ हॉफ बिजली बिल योजना का लाभ भी पूरी तरह मिलेगा।
बिजली विभाग ने इस कॅरोना काल में उपभोक्ताओं से अपने बिजली बिल का भुगतान मोर बिजली एप्प अथवा ऑन लाइन  द्वारा जरूर करने की अपील की गई है।