Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के खिलाफ NSUI ने खोला मोर्चा, DEO कार्यालय का किया घेराव, लचर शिक्षा व्यवस्था की शवयात्रा निकालकर किया प्रदर्शन

  रायपुर।   एनएसयूआई ने गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के खिलाफ डीईओ कार्यालय का घेराव कर प्रदर्शन किया. NSUI प्रभारी महामंत्री हेमंत पाल के ने...

Also Read

 रायपुर। एनएसयूआई ने गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के खिलाफ डीईओ कार्यालय का घेराव कर प्रदर्शन किया. NSUI प्रभारी महामंत्री हेमंत पाल के नेतृत्व में शव यात्रा निकाल कर श्रद्धांजलि दी गई. हेमंत पाल ने कहा कि जिले में गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के खिलाफ जिला शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन देते आ रहे हैं पर किसी भी प्रकार का जवाब नहीं देने पर एनएसयूआई ने डीईओ कार्यालय के समाने आंदोलन किया.



एनएसयूआई का कहना है राजधानी में गैर मान्यता प्राप्त स्कूल चल रहे हैं. ज्यादातर स्कूलों के पास मान्यता नहीं है. रायपुर में बड़ी संख्या में ऐसे प्ले स्कूल भी चलाए जा रहे हैं, जिनकी न तो मान्यता है और न ही दिशा निर्देशों के अनुसार उन स्कूलों का संचालन हो रहा है. NSUI का आरोप है कि स्कूलों में चल रही इस धांधली को जिला शिक्षा अधिकारी संरक्षण दे रहे हैं. ये बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है.

राजधानी रायपुर के गली-मोहल्लों में चल रहे निजी स्कूलों की मान्यता को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी को शिकायत मिली थी. जांच के बाद पता चला कि 16 में से सिर्फ 2 स्कूलों को ही मान्यता मिली हुई है, बाकी अन्य के पास मान्यता नहीं है. इसके बाद से ही NSUI ने प्रदर्शन कर गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. लगभग महीने भर पहले बिना मान्यता के संचालित होने वाले चैतन्य टेक्नो स्कूल की अमलीडीह ब्रांच को जिला शिक्षा अधिकारी ने सील किया था. मान्यता के बिना छात्रों को एडमिशन देने के कारण स्कूल की दो ब्रांच पर 1-1 लाख रुपए का जुर्माना लगाया था. लेकिन निजी प्रबंधन के स्कूलों पर कार्रवाई नहीं होने पर NSUI लगातार जिला शिक्षा अधिकारी से कार्रवाई की मांग कर रही है.

आज के प्रदर्शन में प्रदेश सचिव कुणाल दुबे, मोनू तिवारी, केशव सिन्हा, वाइस चेयरमैन पुनेश्वर लहरे, अनुज शुक्ला, विशाल मानिकपुरी, जिला महासचिव रजत ठाकुर , शुभम शर्मा , भक्तेश्वर वैष्णव , सुजीत सुमेर, मनीष बांधे, तनिष्क मिश्रा ,अंकित बंजारे , अभिनव बांधे आदि कार्यकर्ता मौजूद थे.