Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

संपूर्णता अभियान का उद्देश्य आकांक्षी विकासखंड को विकास के उच्चतम स्तर तक पहुंचाना है-कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे

 कवर्धा कलेक्टर ने बोड़ला विकाखण्ड के सुदूर वनांचल ग्राम रेंगाखार में आकांक्षी विकासखंड अंतर्गत संपूर्णता अभियान का किया शुभारंभ   कलेक्टर सह...

Also Read

 कवर्धा




कलेक्टर ने बोड़ला विकाखण्ड के सुदूर वनांचल ग्राम रेंगाखार में आकांक्षी विकासखंड अंतर्गत संपूर्णता अभियान का किया शुभारंभ  

कलेक्टर सहित गणमान्य नागरिक, स्कूली बच्चें, जनप्रतिनिधि मशाल यात्रा में शामिल होकर कार्यक्रम स्थल पहुंचे

कवर्धा,  केन्द्र तथा राज्य शासन की प्राथमिकता वाली आकांक्षी विकासखण्ड के तहत आज बोड़ला विकाखण्ड के सुदूर वनांचल ग्राम रेंगाखार में संपूर्णता अभियान का शुभारंभ किया गया। कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे, निति आयोग आर्थिक अनवेषक श्री आशीष दीवान, वन मंडलाधिकारी श्री शशि कुमार, जिला पंचायत सीईओं श्री संदीप कुमार अग्रवाल सहित अतिथियों ने कार्यक्रम में दीप प्रज्जवलित कर अभियान का विधिवत शुभारंभ किया। कार्यक्रम के शुभारंभ से पहले कलेक्टर श्री महोबे ने रेंगाखार पुलिस थाना परिसर से मशाल जलाकर मशाल यात्रा में शामिल हुए। इसके साथ ही जिले के गणमान्य नागरिक, स्कूली बच्चों सहित जनप्रतिनिधियों ने भी मशाल यात्रा में शामिल होकर कार्यक्रम स्थल पहुंचे। इस दौरान आकांक्षी विकासखंड के तहत संपूर्णता अभियान की रूप रेखा के बारे में विस्तार से जानकारी नागरिकों को दी गई और हितग्राहियों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड का वितरण भी किया गया।

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश में आकांक्षी विकासखंड के तहत 500 आकांक्षी विकासखंड का चयन किया है। इसमें कबीरधाम जिले के आदिवासी एवं विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा बाहूल्य बोडला विकासखण्ड को आकांक्षी विकासखण्ड के रूप में चयन किया गया है। यह हमारे लिए गौरव की बात है। आज रेंगाखार से इस योजना का शुभारंभ किया गया है। जिसका उद्देश्य आकांक्षी विकासखंड को विकास के उच्चतम स्तर तक पहुंचाना है। इन क्षेत्रों में शासन की सभी योजनाओं से हितग्राहियों को लाभन्वित करना है। उन्होंने बताया कि यह अभियान तीन महीने तक चालाया जाएगा। इसमें केन्द्र सरकार द्वारा तीन विषयों में 6 प्रमुख संकेतकों को शामिल किया गया है।

कलेक्टर श्री महोबे ने बताया कि आकांक्षी विकासखंड के तहत स्वास्थ्य विभाग, कृषि, महिला एवं बाल विकास विभाग और एनआरएमएल के कार्यक्रम और योजनाओं के क्रियान्वयन को फोकस कर पूरा किया जाएगा। इसके अलावा विभिन्न विभागों के संचालित 40 योजनाओं के क्रियान्वयन को भी प्राथमिकता में रखा गया है। उन्होंने कहा कि संपूर्णता अभियान का उद्देश्य गांवों में समग्र विकास को सुनिश्चित करना है। मेरा ब्लॉक, मेरा विकासखंड मानकर पूर्ण स्वामित्व के साथ योजना को सफल बनाने कार्य करेगें। इसमें शासकीय कर्मचारी के साथ इस ब्लॉक के जनप्रतिनिधि, नागरिकों की भी सहभागिता जरूरी है, तभी हम आकांक्षी विकासखंड को विकास के उच्चतम स्तर पर पहुंचा पाएंगे। इस अवसर पर बोड़ला एसडीएम श्रीमती गीता रायस्त, बोड़ला जनपद सीईओं श्री मनीष भारती, आंकाक्षी विकासखंड फेला सुश्री कुमुद मिश्रा, श्री मंगलू परते, श्री कपूरचंद्र ठाकरे, श्री पन्नालाल अग्रवाल, श्री राजकुमार मेरावी, श्री मनिराम यादव, श्री धु्रव सिंह धु्रर्वे, श्री गजानंद यादव, श्री खेदू कुंभकार सहित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, अधिकारी उपस्थित थे।


कलेक्टर ने मशाल जलाकर मशाल यात्रा का किया शुभारंभ


कलेक्टर श्री महोबे ने रेंगाखार पुलिस थाना परिसर से मशाल जलाकर मशाल यात्रा का शुभारंभ किया। इस प्रतिकात्मक आयोजन का उद्देश्य समुदाय के बीच जागरूकता लाना और लोगों को अभियान में सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए प्रेरित करना है। मशाल यात्रा ने संपूर्णता अभियान कि शुरूआत को एक नई उर्जा और उत्साह के साथ चिन्हित किया। उन्होंने कहा कि मशाल यात्रा का उद्देश्य ग्रामीण समुदायों में जागरूकता बढ़ाना और समग्र विकास को प्रोत्साहित करना है।


कलेक्टर ने दिलाई सहभागिता की शपथ


बोड़ला विकाखण्ड के सुदूर वनांचल ग्राम रेंगाखार में आयोजित संपूर्णता अभियान में कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने उपस्थित गणमान्य नागरिक, स्कूली बच्चों सहित जनप्रतिनिधियों को संपूर्णता अभियान को सफल बनाने के लिए सहभागिता निभाने और अभियान को सफल बनाने की शपथ दिलाई।


कलेक्टर ने डायरिया से संबंधित स्वास्थ्य संवर्धन खेल सांप सीढी का किया विमोचन


कलेक्टर ने कार्यक्रम में डायरिया से संबंधित स्वास्थ्य संवर्धन खेल सांप सीढी का विमोचन किया। जिसमें खेल के माध्यम से बच्चे डायरिया से संबंधित जानकारी और बचाव के तरीके को जान सके और अपने प्रतिदिन के दिनचर्या में शामिल कर सके। कलेक्टर ने लोगो को बताया की डायरिया के कोई भी लक्षण हो तो तुरंत मितानिन आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम, अस्पताल में जाकार संपर्क करे।


स्टॉल लगाकर ग्रामीणों को किया गया जागरूक


संपूर्णता अभियान कार्यक्रम में विभिन्न शासकीय योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए स्टॉल लगाए गए थे। इन स्टॉलों में शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, कृषि, और ग्रामीण विकास से संबंधित योजनाओं की जानकारी दी गई। साथ ही, विशेषज्ञों द्वारा ग्रामीणों को इन योजनाओं का लाभ कैसे उठाया जाए, इसके बारे में मार्गदर्शन भी प्रदान किया गया। लोगों ने इन स्टॉल्स पर जाकर योजनाओं की जानकारी प्राप्त की और अपने सवालों के जवाब भी पाए। इस प्रकार के आयोजनों से ग्रामीण समुदाय को सरकार की विभिन्न योजनाओं का अधिकतम लाभ मिल सकेगा।


नुक्कड़ नाटक के माध्यम से आकांक्षी विकासखंड के विकास के संबंध में दी जानकारी


संपूर्णता अभियान में स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा आकांक्षी जिला के विकास के संबंध में नुक्कड़ नाटक की सुंदर एवं आकर्षक प्रस्तुति दी गई। इस दौरान छत्तीसगढ़ की बैगा बाहूल क्षेत्र की पारंपारिक बैगा नृत्य, देश भक्ति गीत की भी प्रस्तुति दी गई।