Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

18 वीं लोकसभा का पहला सत्र कई महत्वपूर्ण चर्चाओं के साथ अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

      नई दिल्ली. असल बात न्यूज़. 18 वीं लोकसभा के आम चुनावों के बाद ,  लोकसभा का पहला सत्र और राज्यसभा का   264 वां सत्र 7 दिनों की बैठक में...

Also Read

 



 

 नई दिल्ली.

असल बात न्यूज़.

18वीं लोकसभा के आम चुनावों के बादलोकसभा का पहला सत्र और राज्यसभा का 264वां सत्र 7 दिनों की बैठक में कई सारी महत्वपूर्ण चर्चाओं के साथ अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया है. 


आज नई दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुएकेंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री श्री किरेन रिजीजु ने संसद के इस सत्र की कार्यवाही का विवरण प्रस्तुत किया। लोकसभा में पहले दो दिन 18वीं लोकसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों ne🚩 शपथ/प्रतिज्ञान ग्रहण किया। सत्र के दौरान कुल 542 सदस्यों में से 539 ने शपथ/प्रतिज्ञान लिया।


 

शपथ/प्रतिज्ञान की सुविधा के लिएभारत की राष्ट्रपति के द्वा ने संविधान के अनुच्छेद 95(1) के तहत श्री भर्तृहरि मेहताब को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया तथा श्री सुरेश कोडिकुन्निलश्री राधा मोहन सिंहश्री फग्गन सिंह कुलस्तेश्री टी.आर. बालू और श्री सुदीप बंद्योपाध्याय को ऐसे व्यक्तियों के रूप में नियुक्त कियाजिनके समक्ष सदस्य संविधान के अनुच्छेद 99 के तहत शपथ/प्रतिज्ञान ले सकते हैं और उन पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।

26 जून, 2024 को लोकसभा के अध्यक्ष का चुनाव हुआ और लोकसभा के सदस्य श्री ओम बिरला को ध्वनि मत से अध्यक्ष चुना गया। इसी दिनप्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने लोकसभा में अपने मंत्रिपरिषद का परिचय कराया।


 

27 जून, 2024 को राष्ट्रपति ने संविधान के अनुच्छेद 87 के तहत संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित कियाजिसमें सरकार की पिछली उपलब्धियों का ब्यौरा दिया गया और साथ ही राष्ट्र के भविष्य के विकास के लिए रोडमैप का भी विवरण दिया गया।

27 जून, 2024 को प्रधानमंत्री ने अपने मंत्रिपरिषद का राज्यसभा में परिचय कराया।राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा 28 जून, 2024 को दोनों सदनों में शुरू होनी थी।लोकसभा में व्यवधानों के कारण इस विषय पर बहस 1 जुलाई, 2024 को ही शुरू हो सकी। श्री अनुराग ठाकुरसांसद ने बहस की शुरुआत कीजबकि सुश्री बांसुरी स्वराजसांसद ने लोकसभा में चर्चा का समर्थन किया। कुल 68 सदस्यों ने बहस में हिस्सा लियाजबकि 50 से अधिक सदस्यों ने अपने भाषण सदन के पटल पर रखे। 2 जुलाई, 2024 को 18 घंटे से अधिक चली चर्चा के बाद प्रधानमंत्री द्वारा बहस का उत्तर दिया गया। लोकसभा में लगभग 34 घंटे की अवधि में 7 बैठकें हुईं. 

राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा 28 जून, 2024 को श्री सुधांशु त्रिवेदीसांसद द्वारा शुरू की गईजिसका समर्थन सुश्री कविता पाटीदारसांसद द्वारा किया गया। कुल 76 सदस्यों ने 21 घंटे से अधिक चली बहस में भाग लियाजिसका उत्तर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 3 जुलाई, 2024 को दिया गया। राज्यसभा की कुल उत्पादकता शत-प्रतिशत से अधिक रही।