Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने राज्य शासन की प्राथमिकता में शामिल जल जीवन मिशन के कार्यों की गहन समीक्षा की, कलेक्टर ने टेंडर भरने के बाद कार्य प्रारंभ नही करने वाले कॉन्ट्रैक्टर को ब्लेक लिस्टेड करने के दिए निर्देश

 कवर्धा कवर्धा,  कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जल जीवन मिशन और पेयजल व्यवस्था के संबंध में लोक स्वास्थ्य यांत्रि...

Also Read

 कवर्धा


कवर्धा,  कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जल जीवन मिशन और पेयजल व्यवस्था के संबंध में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के साथ अन्य संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बैठक में शासन की प्राथमिकता में शामिल हर घर पर शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कराने वाली जल जीवन मिशन के कार्यों की प्रगति की गहन समीक्षा की। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के प्रगतिरत कार्यां की जानकारी लेते हुए लंबे समय से रूके कुछ कार्यो पर नराजगी भी जताई। कलेक्टर ने कहा कि विभागीय समन्वय से जो-जो कार्य रूके हुए है ऐसे कार्यो को दुरूस्थ करते हुए कार्यो पर प्रगति लाएं। उन्होंने कार्य में प्रगति लाने के सख्त निर्देश दिए। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के कार्यां को गंभीरता से नहीं लेने और टेंडर भरने के बाद कार्य प्रारंभ नही करने वाले ठेकेदार को ब्लेक लिस्टेड करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में संचालित स्कूलों, आंगनबाड़ी केंद्र, स्वास्थ्य केंद्रों में रनिंग वाटर के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जहां रनिंग वाटर नहीं आ रहे है उसकी सूची तैयार करें और प्राथमिकता से निराकरण करना सुनिश्चित करें। बैठक में बताया गया कि जल जीवन मिशन के 164 गांवों का कार्य पूर्ण हो चुका है। कलेक्टर ने पूर्ण हो चुके कार्यो को ग्राम पंचायत को हैंड ओवर करने के विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए।

      कलेक्टर श्री महोबे ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत प्रारंभ कार्यों को जल्दी ही पूरा करें और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी जोर दिया कि जल जीवन मिशन के तहत सभी कार्य पारदर्शिता और गुणवत्ता के साथ किए जाएं। उन्होंने जल आपूर्ति योजनाओं के कार्यान्वयन में आ रही जल स्रोतों की कमी, तकनीकी दिक्कतें सहित अन्य समस्याओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि जल जीवन के कार्यों में जिन कारणों से दिक्कत आ रही है, उसे दूर करते हुए कार्य करे। विभाग के अधिकारी कारणों का चिन्हाकिंत करते हुए संबंधित विभाग के साथ समन्वय कर निराकरण करें। उन्होंने कहा कि जिन ग्रामों में पानी के सोर्स उपलब्ध है, टंकी और पाइप लाइन बिछ गई है, लेकिन अन्य कारणों से पेयजल प्रारंभ नहीं हो पाए हैं, ऐसे ग्रामों की सूची तैयार करें और इसका निराकरण करते हुए पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन की सफलता के लिए सामुदायिक भागीदारी बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे स्थानीय समुदायों के साथ मिलकर काम करें और उन्हें जागरूक करें।  

       कलेक्टर ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि जल जीवन मिशन के कार्यों को गुणवत्तायुक्त कार्य पूरा करें। साथ ही कलेक्टर ने जिले के जिन-जिन ग्रामों में जल जीवन मिशन को कार्यों की ऐजेसियां के द्वारा पूरी बताई जा रही है, ऐसे ग्रामों में सूची तैयार कर ग्राम सभा में रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के पूर्ण और प्रगतिरत योजनाओं में जल प्रदाय गुणवत्ता युक्त उचित मात्रा में हितग्राहियों को मिले ऐसी सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री महोबे ने जल जीवन मिशन अंतर्गत कार्यो की ग्रामवार समीक्षा की और विभागीय अधिकारियों से ग्राम वार प्रगति की पूरी जानकारी ली। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के कार्यों की विस्तृत जानकारी लेते हुए समस्त अधिकारियों कर्मचारियो को निर्देशित कर लक्ष्य के विरूद्ध प्रगति प्राप्त करने के निर्देश दिए।

       बैठक में  जल जीवन मिशन के सचिव एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री जीपी गौड़ ने बताया कि जल जीवन मिशन अंतर्गत कबीरधाम जिले के 959 ग्रामों के लिए योजना तैयार की गई है, जिसमे से रेट्रोफिटिग की 231, सिंगल विलेज की 543 व सोलर पंप आधारित 185 सम्मिलित है। 958 ग्रामों की योजना के क्रियान्वयन के लिए कार्यादेश जारी किया जा चूका है तथा 01 ग्राम की योजना निविदा प्रक्रिया अंतर्गत प्रक्रियाधीन है। 958 ग्रामों में कार्य प्रारंभ कर दिया गया है तथा 164 ग्रामों में कार्य पूर्ण कर लिया गया है। साथ ही प्रगतिरत योजना के तहत 315 ग्रामों मे जल प्रदाय प्रारंभ कर दिया गया है। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री संदीप अग्रवाल सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।