Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

शासन की योजनाओं पर क्रियान्वयन बेहतर ढंग से हो - प्रभारी मंत्री श्री शर्मा - जल संरक्षण को बढ़ावा देने हार्वेस्टिंग पॉड बनायी जाए - अमृत सरोवर योजनान्तर्गत निर्मित तालाबों को बनाये सुन्दर सरोवर

दुर्ग  - राजस्व प्रकरणों के निराकरण को प्राथमिकता देवें - किसानों को समय पर खरीफ, बीज और खाद उपलब्ध करायी जाए - प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ...

Also Read

दुर्ग 




- राजस्व प्रकरणों के निराकरण को प्राथमिकता देवें

- किसानों को समय पर खरीफ, बीज और खाद उपलब्ध करायी जाए

- प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से हितग्राही किसानों को लाभान्वित करें

दुर्ग / प्रदेश के उप मुख्यमंत्री एवं दुर्ग जिले के प्रभारी मंत्री श्री विजय शर्मा ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का जिले में पूरी पारदर्शिता और दक्षता के साथ बेहतर ढंग से क्रियान्वयन हो। योजनाओं से सभी हितग्राही लाभान्वित होना चाहिए। प्रभारी मंत्री श्री शर्मा आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में अधिकारियों के विभागीय काम-काज की समीक्षा करते हुए उक्त बातें कहीं। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। समीक्षा बैठक में सांसद श्री विजय बघेल, विधायक सर्वश्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा, ईश्वर साहू, ललित चन्द्राकर, गजेन्द्र यादव, रिकेश सेन और डीपेश साहू भी मौजूद थे। 

उप मुख्यमंत्री श्री शर्मा ने कहा कि खरीफ मौसम में किसानों को समय पर खरीफ, बीज और खाद उपलब्ध करायी जाए। किसानों को किसी प्रकार की समस्या न हो, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सभी पात्र हितग्राही किसानों को लाभान्वित किया जाए। उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों को राजस्व प्रकरणों के निराकरण को प्राथमिकता देने कहा। विशेषकर नामांतरण, खाता विभाजन, सीमांकन प्रकरण निराकरण की जिम्मेदारी संबंधित तहसीलदार एवं एसडीएम की होगी। प्रभारी मंत्री श्री शर्मा ने जिले में जल संरक्षण को बढ़ावा देने शासकीय भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तथा नालों में हार्वेस्टिंग पॉड बनाकर जल संचय करने कहा। उन्हांेने अमृत सरोवर योजना अंतर्गत निर्मित तालाबों को सुन्दर सरोवर बनाने पाथवे बनाकर पीपल, बरगद और नीम का पौधरोपण कराने तथा ओपन जीम और सार्वजनिक शौचालय बनाने कहा। उन्हांेने ग्राम पंचायतों में कम्प्यूटर, इन्टरनेट, वाई-फाई कनेक्शन की जानकारी लेते हुए जिले के सभी पंचायतों को उक्त सुविधा से शीघ्र जोड़ने कहा है। पंचायतों को अपनी आमदनी कैसी बढ़ानी है, इस संबंध में अधिकारी आवश्यक पहल करना सुनिश्चित करें। प्रभारी मंत्री श्री शर्मा ने आगामी मानसून को ध्यान में रखते हुए जिले के स्कूल, छात्रावासों की आवश्यक मरम्मत कराने कहा है। शाला प्रवेश उत्सव में विधायक एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में विद्यार्थियों को गणवेश, पुस्तकें, सायकले एवं अन्य सामग्रियां वितरण करना सुनिश्चित किया जाए। प्रभारी मंत्री श्री शर्मा ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास द्वारा संचालित योजनाओं मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास, मल्टी एक्टिविटी सेंटर की गतिविधियां, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, छत्तीसगढ़ ग्रामीण विकास अभिकरण, नगरीय निकायों में सॉलिड बेस्ट प्रबंधन, राष्ट्रीय राजमार्ग के कार्य, पीडीएस व्यवस्था, आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आदि की विभागवार गहन समीक्षा की। बैठक में उपस्थित विधायकों ने संबंधित क्षेत्र में शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन और स्थानीय समस्याओं की ओर प्रभारी मंत्री जी का ध्यान आकृष्ट किये।  

कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने जिले में विभागों द्वारा केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में प्रभारी मंत्री जी को अवगत कराया। साथ ही अधिकारियों की ओर से आश्वस्त किया कि आने वाले दिनों में इसका और बेहतर ढंग से क्रियान्वयन किया जाएगा। पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र शुक्ला ने जुआ, सट्टा एवं अवैध शराब के प्रकरणों, आबकारी एक्ट व एनपीडीएस एक्ट पर कार्यवाही और सड़क दुर्घटनाओं व चालानी कार्यवाही आदि के संबंध में जानकारी दी। बैठक में जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती पुष्पा यादव, एडीएम श्री अरविन्द एक्का, सभी एसडीएम एवं समस्त विभाग के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।