Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे,7 देशों के राष्ट्राध्यक्षों को आमंत्रित

 नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं. इस समारोह को भव्य बनाने की पूरी तैयारी चल रही है. इसके लिए 7 देशों के...

Also Read

 नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं. इस समारोह को भव्य बनाने की पूरी तैयारी चल रही है. इसके लिए 7 देशों के राष्ट्राध्यक्षों को आमंत्रित किया गया है. बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू सहित पड़ोसी और हिंद महासागर क्षेत्र के 7 देशों के नेता 9 जून को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए इन नेताओं की यात्रा भारत द्वारा अपनी “पड़ोसी फर्स्ट” नीति के तहत हो रही है.

शेख हसीना और मुइज्जू के अलावा समारोह में शामिल होने वाले अन्य नेताओं में श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे, , मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ, सेशेल्स के उपराष्ट्रपति अहमद अफीफ , भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग तोबगे और नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल शामिल हैं. बयान में कहा गया है कि शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के अलावा ये नेता रविवार शाम को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा आयोजित भोज में भी शामिल होंगे.

आमंत्रितों की सूची में मुइज़ू को शामिल करना आश्चर्यजनक कदम था. पिछले साल उनके चुनाव के बाद से भारत और मालदीव के बीच तनावपूर्ण संबंध दिखे हैं. मुइज़ू ने मालदीव को चीन के करीब लाने के लिए कई कदम उठाए हैं. भारत को 85 से अधिक सैन्य कर्मियों को वापस बुलाने के लिए मजबूर कर दिया. रक्षा उपकरणों और खाद्य पदार्थों की आपूर्ति के लिए चीन और तुर्की के साथ समझौतों पर भी हस्ताक्षर किए हैं. उन्होंने भारत पर निर्भरता कम करने की कोशिश की है.    

अभी फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि पीएम मोदी भारत आने वाले इन नेताओं के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठकें करेंगे या नहीं.

आपको बता दें कि बांग्लादेश के प्रधानमंत्री और सिशेल्स के राष्ट्रपति शनिवार को नई दिल्ली पहुंचने वाले हैं. अन्य सभी नेता रविवार को ही आएंगे. नेपाल के प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण समारोह से लगभग 4 घंटे पहले नई दिल्ली पहुंचेंगे.