Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

छत्तीसगढ़ में 2019 का ट्रेंड बरकरार, इस बार भी तीन महिला सांसद करेंगी प्रदेश का प्रतिनिधित्व, जानिए किसने कितने मतों से दर्ज की जीत

  रायपुर । छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों में से 10 सीटों पर भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की है. वहीं कांग्रेस के खाते में सिर्फ एक सीट आई है. प्रद...

Also Read

 रायपुर। छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों में से 10 सीटों पर भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की है. वहीं कांग्रेस के खाते में सिर्फ एक सीट आई है. प्रदेश में पिछले दो लोकसभा चुनावों से महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ा है. 11 लोकसभा सीटों के हिसाब से राज्य में महिलाओं का प्रतिनिधित्व 27 फीसदी से ज्यादा है. लगातार दूसरी बार लोकसभा चुनाव में महिला प्रत्याशियों का दबदबा बरकरार रहा. लोकसभा चुनाव 2019 में तीन महिला प्रत्याशी जीतकर आई थी तो वहीं लोकसभा चुनाव 2024 में भी 3 लोकसभा क्षेत्रों से महिला उम्मीदवार निर्वाचित हुईं हैं. जिसमें कोरबा से ज्योत्सना महंत, महासमुंद से रूप कुमारी चौधरी, जांजगीर-चांपा से कमलेश जांगड़े सांसद बन गईं हैं.



कुल 6 महिला प्रत्याशी रहीं मैदान में

लोकसभा चुनाव 2024 में भाजपा और कांग्रेस दोनों ने तीन-तीन सीटों से महिलाओं को टिकट दिया था. भाजपा ने जहां कोरबा से सरोज पाण्डे, जांजगीर-चांपा से कमलेश जांगड़े और महासमुंद से रूपकुमारी चौधरी को मैदान में उतारा तो वहीं कांग्रेस ने कोरबा से ज्योत्सना महंत, रायगढ़ से डॉ. मेनका देवी, सरगुजा से शशि सिंह को मौका दिया. इन 6 प्रत्याशियों में भाजपा की दो प्रत्याशी कमलेश जांगड़े और रूपकुमारी चौधरी को जीत मिली. वहीं कांग्रेस की केवल एक ज्योत्सना महंत चुनाव जीतने में कामयाब रहीं. बाकी तीन प्रत्याशियों को हार का सामना करना पड़ा.

पार्टीकॉन्स्टीट्यूंसीजउम्मीदवार
भाजपाकोरबासुश्री सरोज पाण्डे
भाजपाजांजगीर-चांपाकमलेश जांगड़े
भाजपामहासमुंदरूपकुमारी चौधरी
कांग्रेसकोरबाज्योत्सना महंत
कांग्रेसरायगढ़डॉ. मेनका देवी
कांग्रेससरगुजाशशि सिंह

महिला उम्मीदवारों ने किसे कितने वोटों से हराया और वे कहां हारी

कोरबा लोकसभा सीट पर कांग्रेस की ज्योत्सना महंत का मुकाबला सरोज पांडे से था. ज्योत्सना महंत ने सरोज पांडे को 43283 वोटों से हराया है.

महासमुंद लोकसभा सीट पर भाजपा की रूप कुमारी चौधरी का मुकाबला पूर्व मंत्री ताम्रध्वज साहू से था. रूप कुमारी चौधरी ने ताम्रध्वज साहू को 145456 वोटों से हराया है.

रायगढ़ लोकसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. मेनका देवी सिंह का मुकाबला राधेश्याम राठिया से था. बीजेपी प्रत्याशी राधेश्याम राठिया ने डॉ. मेनका देवी को 240391 वोटों से हराया.

सरगुजा लोकसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी शशि सिंह कोराम का मुकाबला चिंतामणि महाराज से था. बीजेपी प्रत्याशी चिंतामणि महाराज ने शशि सिंह को 64822 वोटों से हराया है.

जांजगीर-चांपा लोकसभा सीट पर बीजेपी की महिला प्रत्याशी कमलेश जांगड़े का मुकाबला पूर्व मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया से था. कमलेश जांगड़े ने शिवकुमार डहरिया को 60000 वोटों से हराया है.

2019 के लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में तीन सीटों पर महिलाओं ने जीत दर्ज की. जिसमें सरगुजा लोकसभा सीट से भाजपा की रेणुका सिंह ने कांग्रेस के पुरुष उम्मीदवार खेल साय सिंह को 1,57,873 वोटों से हराया. रायगढ़ से भाजपा की गोमती साय ने कांग्रेस के पुरुष उम्मीदवार लालजीत सिंह राठिया को 66,027 वोटों से हराया. वहीं कोरबा से ज्योत्सना महंत ने भाजपा के पुरुष उम्मीदवार ज्योतिनंद दुबे को 26,349 वोटों से हराया.

2004 और 2014 में थी एक-एक महिला सांसद

राज्य बनने के बाद 2004 में हुए पहले लोकसभा चुनाव में जांजगीर लोकसभा क्षेत्र से करुणा शुक्ला एक मात्र महिला सांसद निर्वाचित हुई थीं. लेकिन 2009 में हुए अगले चुनाव में सरोज पाण्डेय और कमलादेवी पाटले सांसद निर्वाचित हुईं. 2014 के चुनाव में फिर कमला देवी पाटले अकेले महिला सांसद निर्वाचित हुईं. लेकिन 2019 में महिला सांसदों की संख्या बढ़कर तीन हो गई.