Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

जिले में डायरिया का प्रकोप बढ़ रहा,डायरिया से फिर एक मौत

  कवर्धा । कबीरधाम जिले में डायरिया का प्रकोप बढ़ रहा है. कोयलारी में डायरिया से फिर से एक मौत हो गई है. डायरिया से पीड़ित 60 वर्षीय कृष्णा स...

Also Read

 कवर्धा। कबीरधाम जिले में डायरिया का प्रकोप बढ़ रहा है. कोयलारी में डायरिया से फिर से एक मौत हो गई है. डायरिया से पीड़ित 60 वर्षीय कृष्णा साहू की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लोहारा में इलाज के दौरान मौत हो गई. बताया जा रहा है कि मृतक का तीन दिन से इलाज चल रहा था. बता दें कि एक मरीज की पहली मौत सप्ताह भर पहले हुई थी और अब दूसरी मौत बीती रात हुई है.

लोहारा ब्लाक के कोयलारी गांव में डायरिया का प्रकोप फैला हुआ है. डायरिया प्रकोप के चलते दो दिन पहले पति-पत्नी लोहारा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती थे. यहां इलाज के दौरान देर रात कृष्णा की मौत हो गई. गांव के 100 से अधिक लोग डायरिया की चपेट में हैं. कोयलारी के बाद दैहानडीह में डायरिया के 24 केस सामने आए. जिससे गांव में हड़कंप मच गया है. वहीं पीड़ित लोगों की मदद के लिए दैहानडीह में स्वास्थ्य विभाग का अमला नहीं पहुंचा. जिसके बाद सभी पीड़ितों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लोहारा और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.


सीएमएचओ डॉ. बीएल राज ने बताया कि पहले की तुलना में मरीज की संख्या अभी कम हो गई है. उन्होंने कहा कि हर घर में जाकर मितानिनों और आरएचओ की मदद से सर्वे कर रहे हैं. किसी भी व्यक्ति में उल्टी-दस्त के लक्षण मिल रहे हैं उनका इलाज किया जा रहा है और हाई स्कूल में कैंप भी लगाया जा रहा है. उन्होंने बताया कि हमने गांव के कुएं के पानी का जांच करवाया है. जिसमें दो कुएं के पानी दूषित पाए गए हैं. इसमें एक सार्वजानिक और दूसरा प्राइवेट कुआ है. कुएं में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया गया है और और ग्रामीणों को कुएं के पानी का उपयोग नहीं करने की हिदायत दी गई है. 8 दिन बाद फिर से इसका जांच किया जाएगा.

डायरिया के मरीज ने बताया कि वह पिछले 53 वर्षों से जन्म से ही कुएं का पानी पी रहा है. लेकिन ये पहली बार हुआ है. पानी की जांच करने आए अधिकारियों ने बताया कि पानी खराब है. उन्होंने बताया कि गांव में पेयजल की और कोई व्यवस्था नहीं है. नल बनाया गया है लेकिन वह बराबर नहीं चलता है. जिसकी वजह से कुएं का पानी पी रहे हैं.