Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

नगर पालिका अध्यक्ष के खिलाफ पार्षदों ने लाया अविश्वास प्रस्ताव, भारी भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी का लगाया आरोप

  डोंगरगढ़।  लोकसभा चुनाव का दौर अभी थमा नहीं है कि दूसरी सियासी उठापटक का दौर शुरू हो गया है. नगर पालिका परिषद डोंगरगढ़ में अध्यक्ष पद के लि...

Also Read

 डोंगरगढ़। लोकसभा चुनाव का दौर अभी थमा नहीं है कि दूसरी सियासी उठापटक का दौर शुरू हो गया है. नगर पालिका परिषद डोंगरगढ़ में अध्यक्ष पद के लिए भाजपा के 14 पार्षदो ने अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी पूरी कर ली हैं. बीते दिनों मूढ़ीपार की सभा में सीएम विष्णुदेव साय के सामने डोंगरगढ़ के दो निर्दलीय पार्षदों ने भाजपा का दामन थामा था, तब से ही डोंगरगढ़ की शहर सरकार पर ख़तरा मंडरा रहा था.



जानकारी के मुताबिक, भाजपा के पार्षद दल ने नगर पालिका अध्यक्ष सुदेश मेश्राम के उपर कमीशन खोरी और भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप लगा चुके है, इसी कड़ी में अब अविश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है. बता दें कि 24 वार्डों वाली नगर पालिका परिषद डोंगरगढ़ में वर्तमान समय पर भारतीय जनता पार्टी के पास कुल 14 पार्षद है, वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी के पास 10 में से 1 पार्षद के मृत्यु के बाद 9 ही पार्षद बचे है. ऐसे में प्राथमिक रुप से भाजपा डोंगरगढ़ में शहर सरकार बनाने में सक्षम हैं. अब देखने वाली बात यह है की इसी साल के आखरी माह में नगरीय निकाय चुनाव होने वाले हैं, ऐसी परिस्थिती में क्या प्रशासन इस पद को खुद संभालेगी या फिर चुनाव करवाकर अध्यक्ष की कमान भाजपा पार्टी को देगी.