Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

आयुक्त ने किया धमधा नाका मणि कंचन केंद्र का निरीक्षण, कचरों के निष्पादन प्रक्रिया में तेजी लाने दिए निर्देश, -कचरे सेग्रिगेशन करने के बाद स्वच्छता दीदी द्वारा कचरा बेचकर प्रतिदिन कमा लेती है दो सौ रुपये

 दुर्ग दुर्ग!नगर पालिक निगम सीमान्तर्गत शहर में स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए नगर निगम प्रशासन द्वारा शहर में और भी विशेष सफाई अभियान तेज क...

Also Read

 दुर्ग



दुर्ग!नगर पालिक निगम सीमान्तर्गत शहर में स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए नगर निगम प्रशासन द्वारा शहर में और भी विशेष सफाई अभियान तेज कर दिया गया है।गुरुवार सुबह आयुक्त लोकेश चन्द्राकर ने धमधा नाका स्थित मणि कंचन केंद्र में साफ सफाई एवं डोर टू डोर कलेक्शन की जानकारी लेते हुए व्यवस्थित करने का कहा है।आयुक्त ने निरीक्षण के दौरान नगर चौपाटी के करीब मणि कंचन केंद्र का भी जायजा लिया। उन्होंने चौपाटी सहित शहर अन्य जगहों में साफ सफाई करवाने के लिए अधिकारी को निर्देशित किया।आयुक्त ने धमधा नाका निरीक्षण के दौरान विभिन्न वार्डो से डोर टू डोर कलेक्शन करने वाले स्वच्छता दीदियों द्वारा कचरा गिला एवं सुखा अलग करने की समझाइस दी गई ,और नगर वासियों अपील करने को कहा की कचरे को अलग-अलग हरा नीला डब्बा कचरे को अलग कर दे, जिस से मणि कंचन केंद्र में करने वाले हमारे स्वच्छता दीदियों को कचरे को पृथक करने में कष्ट ना हो,इस दौरान उन्होंने स्वच्छता दीदियों का मनोबल बढ़ाया गया जिसे उनमें कार्य के प्रति इच्छा शक्ति प्रबल किया गया,कंपोस्टिंग मशीन का अवलोकन भी किया जिस से निकलने वाले खातू को परखा,साथ ही उन्होंने सेग्रीगेशन से होने वाले लाभ के बारे स्वच्छता दीदियों से बात की,इस मौके पर स्वच्छता दीदियों ने बताया गया की कचरे के सेग्रीगेशन करने बाद पहले से जायदा मुनाफा हो रहा आज दिनाक में प्रति एक महिला दिन का 200 रू कचरा बेच के कमा लेती।आयुक्त ने स्वच्छता दीदियों का मनोबल बढ़ाया और इस कार्य के प्रति इच्छा शक्ति प्रबल किया।सुबह निरीक्षण के दौरान आयुक्त लोकेश चन्द्राकर ने मौजूद अधिकारियों से कहा कि गैंग लगाकर सफाई कराई जाए।आम जनता को जागरूक किया करे, साथ ही दुकानदार द्वारा गंदगी फैलाने वालों से जुर्माना भी किया जाये। उन्होंने ये भी कहा कि सड़क किनारे वार्डों के भीतर सरकारी सड़क को अपनी जागीर समझने वाले सावधान हो जाए,भवन निर्माण सामग्री या मलबा सड़क पर डाला तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा बल्कि सामग्री को जब्त कर जुर्माना लगाया जाएगा। भवन निर्माण सामग्री डालकर सड़क को घेरने वाले स्थानों को चिन्हित करने का काम भी कर्मचारियों को सौंप दिया गया।निगम ने साफ हिदायत दी कि सड़क पर मलबा या भवन निर्माण सामग्री मिले तो शुल्क वसूला जाएगा। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य अधिकारी जावेद अली,कुणाल खडेटकर,राहुल के अलावा स्वच्छता टीम आदि मौजूद रहे।निगम आयुक्त ने कचरे के पृथकीकरण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।