Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

कलेक्टर ने जनशिकायत एवं जनसमस्याओं के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की - नगरीय निकायों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पानी सप्लाई व्यवस्था हो सुव्यवस्थित - समितियों में खाद-बीज का भंडारण एवं उठाव समय पर हो - आर.टी.आई. के प्रावधानों के तहत स्कूलों में हो बच्चों का प्रवेश - स्कूल परिसर एवं खेल मैदान हो अतिक्रमण मुक्त

दुर्ग दुर्ग/ कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने आज कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अधिकारियों की बैठक में जनशिकायत एवं जनसमस्याओं के लंबित प्रकरणों ...

Also Read

दुर्ग



दुर्ग/ कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने आज कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अधिकारियों की बैठक में जनशिकायत एवं जनसमस्याओं के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने विभागवार लंबित प्रकरणों के निराकरण के संबंध में की गई कार्यवाहियों की जानकारी ली। साथ ही अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। कलेक्टर ने जिले के नगरीय निकायों और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल व्यवस्था के तहत पानी सप्लाई पाईप लाइनों पर विशेष ध्यान देने तथा पाईप लिकेज होने पर आवश्यक सुधार कराने नगरीय निकायों के अधिकारियों एवं जनपद सीईओ को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह सूचित करें कि टेल एरिया के वार्डों तक शुद्ध पेयजल पहुंचायी जाए। पेयजल सप्लाई पाईप लाईन गंदी नालियों में न हो। कलेक्टर ने खाद-बीज भंडारण एवं उठाव की जानकारी ली। उन्होंने जिले के समितियों में खरीफ बीज एवं खाद का भंडारण और उठाव समय पर कराने अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही किसानों की आवश्यकता के मुताबिक बीज बोने के समय डाले जाने वाले खादों की आपूर्ति करने कहा। कलेक्टर ने कृषि विभाग के अधिकारी और सभी एसडीएम को कृषि सेवा केन्द्रों का निरीक्षण कर भंडारित खादों की जांच करने के निर्देश दिये। उन्हांेने सहकारिता विभाग के अधिकारियों को कम उठाव वाले क्षेत्र के किसानों को समय पर खाद-बीज का उठाव कराने हेतु प्रोत्साहित करने कहा है। कलेक्टर सुश्री चौधरी ने जिले में पीएमश्री विद्यालय और आर.टी.आई. प्रावधानों के तहत बच्चों का प्रवेश की जानकारी लेते हुए कहा कि जिले के नगरीय निकायों में पंजीयन के आधार पर पीएमश्री विद्यालय का चयन किया जाना है। इसी तरह आर.टी.आई. के तहत गरीब बच्चों को कक्षा पहली से लेकर कक्षा बारहवीं तक स्कूलों में प्रवेश दिया जाना है। उन्होंने अब तक प्रवेशित बच्चों की अपडेट जानकारी उपलब्ध कराने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये। कलेक्टर ने कहा कि जिले के शासकीय स्कूल परिसर एवं खेल मैदानों में अतिक्रमण नहीं होना है। जिला शिक्षा अधिकारी स्कूलों की स्थिति का अवलोकन करा लंे। यदि किसी प्रकार की अतिक्रमण होने पर राजस्व विभाग द्वारा कार्यवाही कर शीघ्र हटायी जाए। स्कूली बच्चों का जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड बनाने और शाला प्रवेशोत्सव आदि की तैयारी करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग के निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केन्द्रों के कार्यों में प्रगति लाने के साथ बारिश पूर्व निर्माण व विद्युतीकरण कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने बच्चों के शारीरिक वृद्धि और विकास के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करने की प्रक्रिया पर जोर देते हुए चिन्हित गांवों को कुपोषण एवं एनीमिया मुक्त बनाने सभी जनपद सीईओ को सीडीपीओ से समन्वय कर आवश्यक पहल करने कहा। कलेक्टर सुश्री चौधरी ने सभी विभागों को सारथी एप के लंबित प्रकरण प्राथमिकता के साथ निराकरण सुनिश्चित करने कहा है। उन्होंने जिले में एफसीआई गोदाम निर्माण के लिए खाद नियंत्रक को एसडीएम के साथ संयुक्त भ्रमण कर स्थान चिन्हांकित करने के निर्देश दिये। बैठक में एडीएम श्री अरविन्द एक्का, आयुक्त नगर निगम भिलाई श्री देवेश ध्रुव, जिला पंचायत के सीईओ श्री अश्वनी देवांगन, आयुक्त नगर निगम दुर्ग श्री लोकेश चन्द्राकर, आयुक्त नगर निगम रिसाली श्रीमती मोनिका वर्मा, आयुक्त नगर निगम भिलाई-3 चरौदा श्री दशरथ राजपूत, संयुक्त कलेक्टर श्री हरवंश सिंह मिरी सहित सभी एसडीएम जनपद सीईओ और समस्त विभाग के जिला कार्यालय प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।