Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

वाइस एडमिरल कृष्णा स्वामीनाथन, एवीएसएम, वीएसएम ने नौसेना उपप्रमुख का कार्यभार संभाला

    नई दिल्ली.  असल बात न्यूज़.        वाइस एडमिरल कृष्णा स्वामीनाथन, एवीएसएम, वीएसएम ने 01 मई 2024 को नौसेना उपप्रमुख के रूप में कार्यभार ग...

Also Read

 

 नई दिल्ली.

 असल बात न्यूज़.     

 

वाइस एडमिरल कृष्णा स्वामीनाथन, एवीएसएम, वीएसएम ने 01 मई 2024 को नौसेना उपप्रमुख के रूप में कार्यभार ग्रहण किया । कार्यभार संभालने पर फ्लैग ऑफिसर ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर राष्‍ट्र की सेवा में प्राणों की आहुति देने वाले वीरों को श्रद्धांजलि दी।

फ्लैग ऑफिसर को 01 जुलाई 87 को भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया था और वह संचार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध में विशेषज्ञ हैं। वह राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खड़कवासला; ज्वाइंट सर्विसेज कमांड एंड स्टाफ कॉलेज, श्रीवेनहम, ब्रिटेन; कॉलेज ऑफ नैवल वॉरफेयर, करंजा; और यूनाइटेड स्टेट्स नेवल वॉर कॉलेज, न्यूपोर्ट, रोड आइलैंड, अमेरिका के पूर्व छात्र रहे हैं ।

अति विशिष्ट सेवा पदक और विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित एडमिरल मिसाइल पोतों आईएनएस विद्युत तथा आईएनएस विनाश, मिसाइल कॉवरेट आईएनएस कुलिश, गाइडेड मिसाइल विध्वंसक आईएनएस मैसूर तथा विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य की कमान सहित अपने नौसेना करियर में कई प्रमुख प्रचालनगत, स्टाफ और प्रशिक्षण नियुक्तियों के पद पर रहे हैं।

रियर एडमिरल के पद पर पदोन्नत होने पर उन्होंने कोच्चि के दक्षिणी नौसेना कमान मुख्यालय में चीफ स्टाफ फिसर (प्रशिक्षण) के रूप में काम किया तथा भारतीय नौसेना में प्रशिक्षण के संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। भारतीय नौसेना सुरक्षा टीम की संस्थापना में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही जो नौसेना के सभी कार्यक्षेत्रों में प्रचालनगत सुरक्षा की निगरानी करती है। इसके बाद वह फ्लैग ऑफिसर सी ट्रेनिंग के रूप में नौसेना के वर्क-अप संगठन के प्रमुख बने, जिसके बाद उन्हें पश्चिमी बेड़े के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग के रूप में नियुक्त होने का अवसर प्राप्त हुआ। स्वोर्ड आर्म की कमान संभालने के बाद, उन्हें भारत सरकार में फ्लैग ऑफिसर ऑफशोर डिफेंस एडवाइजरी ग्रुप और एडवायजर फशोर सिक्यूरिटी एंड डिफेंस नियुक्त किया गया।