Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

अनुभव के साथ दिशा निर्देशों पर भी गंभीरतापूर्वक दिया जाए ध्यान: एडीएम, लोकसभा निर्वाचन हेतु गठित ईईएम दल का प्रशिक्षण संपन्न

दुर्ग       दुर्ग, / कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी के मार्गदर्शन में लोकसभा निर्वाचन 2024 के सुचारू संचालन हेतु ...

Also Read
दुर्ग









      दुर्ग, / कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी के मार्गदर्शन में लोकसभा निर्वाचन 2024 के सुचारू संचालन हेतु जिले में ईईएम (एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी, वीवीटी, एईओ, अकाउंट टीम) का गठन किया गया है। उक्त गठित दलों का प्रशिक्षण आज बीआईटी दुर्ग में संपन्न हुआ। प्रशिक्षण प्रारंभ होने के पूर्व एडीएम श्री अरविन्द एक्का ने अधिकारियों को सौंपे गए कार्य गतिविधियों की बारिकियों को भली-भांति समझने तथा अनुभव के साथ आयोग के दिशा-निर्देर्शों पर भी गंभीरतापूर्वक ध्यान देते हुए दायित्व निर्वहन करने का सुझाव दिया। ईईएम के नोडल अधिकारी डॉ. दिवाकर सिंह राठौर संयुक्त संचालक कोष लेखा एवं पेेंशन ने दल के सदस्यों को उनके कार्यों के संबंध में विस्तारपूर्वक अवगत कराया। उन्होंने निर्वाचन व्यय, निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण का उद्देश्य, वैधानिक प्रावधान, स्टार प्रचारक की सभा रैली के दौरान कार्यवाही, निर्वाचनों का संचालन नियम 1961 तथा ईईएम मैकनिज्म के संबंध में जानकारी दी। मास्टर ट्रेनर श्री पुष्पेन्द्र कुमार वर्मा ने एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी, वीवीटी, एईओ, अकाउंट टीम के कार्यों तथा जप्ती कार्यवाही के पश्चात् की जाने वाली कार्य गतिविधियों के संबंध में अवगत कराया। इसी प्रकार आयकर अधिकारी श्रीमती रंजनी श्रीकुमार ने चुनाव के दौरान इनकम टैक्स विभाग के कार्य पर विस्तार से प्रकाश डाला। लीड बैंक मैनेजर श्री दिलीप नायक ने क्यूआर कोड जनरेट करने और बैंकों में कैस ट्रांसफर की जानकारी दी। श्री मनोज चंद्राकर ने ईएसएमएस तथा सी-विजिल अंतर्गत केस अपलोड करने की प्रकिया के बारे में बताया। प्रशिक्षण के दौरान अधिकारियों द्वारा दल के सदस्यों की शंकाओं का समाधान भी किया गया। प्रशिक्षण में अपर कलेक्टर श्रीमती योगिता देवांगन, एसडीएम श्री मुकेश रावटे, संयुक्त कलेक्टर श्री हरवंश सिंह मिरी, नोडल अधिकारी ईईएम डिप्टी कलेक्टर श्री महेश सिंह राजपूत सहित ईईएम (एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी, वीवीटी, एईओ, अकाउंट टीम) दल के अधिकारीगण उपस्थित थे।