Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

मॉब लिंचिंग : ग्रामीणों ने दौड़ा-दौड़ाकर लाठी डंडे और पत्थर से पीटा, युवक की मौत, आरोपी गिरफ्तार

  कवर्धा। कबीरधाम जिले से मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. कूकदूर थाना क्षेत्र के दमगढ़ गांव में मॉब लिंचिंग में धरमसिंह धुर्वे नाम के शख...

Also Read

 कवर्धा। कबीरधाम जिले से मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. कूकदूर थाना क्षेत्र के दमगढ़ गांव में मॉब लिंचिंग में धरमसिंह धुर्वे नाम के शख्स की मौत हो गई है. मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक महिला सहित 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है मृतक धरम सिंह दमगढ़ गांव में मवेशियों को खोजने आया था. इस दौरान कई युवकों ने उसे पकड़ लिया और रस्सी से बांधकर उसकी पिटाई की. इतना ही नहीं आरोपी उसे रात भर पीटते रहे. इस केस में पीड़ित पक्ष ने यह आरोप लगाया है कि आरोपी पीड़ित युवक को छोड़ने के एवज में 50 हजार रुपये की फिरौती मांग रहे थे, लेकिन फिरौती की रकम नहीं देने के कारण उसकी हत्या कर दी गई. जबकि आरोपी पक्ष की तरफ से यह कहा जा रहा है कि युवक ने गांव की एक महिला से छेड़छाड़ की थी. जिसकी वजह से उसके साथ पिटाई की गई. जिसमें उसकी मौत हो गई.

 

बंधक बनाकर आरोपियों की ओर से की जा रही थी फिरौती की मांग

आरोपियों ने युवक को छेड़छाड़ की वजह से पीटा था. इसके अलावा आरोपियों ने पीड़ित युवक के परिजनों से 50 हजार रुपये फिरौती की मांग की थी. जब फिरौती की रकम नहीं मिली तो उसे पेड़ में बांधकर पीटा गया. लाठी डंडे से उसके ऊपर लगातार वार किया गया, जिससे उसकी मौत हो गई.

मिली जानकारी के अनुसार, 15 अप्रैल को मृतक धरम सिंह राली गांव से दमगढ़ गांव मवेशी ढूंढने के लिए आया था. इस दौरान उस पर महिला से छेड़खानी का आरोप लगाकर लोगों ने उसके साथ मारपीट की. उसे दौड़ा दौड़ाकर पीटा गया फिर उसे रातभर रस्सी से पेड़ में बांधकर लटकाया गया. ज्यादा पिटाई और टॉर्चर करने के बाद उसकी मंगलवार सुबह को मौत हो गई. पुलिस ने इस केस में 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिसमें एक पुरुष और एक महिला आरोपी है. पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. आरोपियों ने पुलिस को बताया की धरमसिंह उनके गांव आया हुआ था और गांव में महिला से छेड़छाड़ कर रहा था. जिसके बाद उसके साथ मार पिटाई की घटना हुई.