Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्वरूपानंद महाविद्यालय के छात्रों द्वारा उत्तरपूर्वी भारत का शैक्षणिक भ्रमण

  भिलाई. असल बात न्यूज़.    स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के सूक्ष्मजीवविज्ञान के एमएससी के विद्यार्थियों ने उत्तरपूर्वी भारत का...

Also Read

 


भिलाई.
असल बात न्यूज़.   

स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के सूक्ष्मजीवविज्ञान के एमएससी के विद्यार्थियों ने उत्तरपूर्वी भारत का शैक्षणिक भ्रमण किया इस भ्रमण में छात्रों ने कोलकाता स्थित विक्टोरिया संग्रहालय की ऐतिहासिक कलाकृतियां, मूर्तियाँ व हथियार देखें तथा दक्षिणेश्वर काली मंदिर गये जहाँ उन्होंने मंदिर के भीतरी भाग में चाँदी से बनाये गए कमल के फूल जिसकी हजार पंखुडियां हैं, पर माँ काली शस्त्रों सहित भगवान शिव के ऊपर खड़ी हुई हैं काली माँ का मंदिर नवरत्न की तरह निर्मित हैं के बारे में जाना।   

विद्यार्थियों ने विज्ञान और प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय मेघालय में आयोजित दो दिवसीय, राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिस्सा लिया जहां सभी विद्यार्थियों ने पोस्टर प्रस्तुतीकरण किया एवं विश्वविद्यालय के सूक्ष्मजीवविज्ञान विभाग, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, खाद्य विभाग व प्रौद्योगिकी विभाग का भ्रमण कर नवीन उपकरणों, पीसीआर, शेकर इन्कुबेटर तथा वर्तमान चल रहे अनुसंधानों की जानकारी प्राप्त की। शिलांग, चेरापूंजी का भ्रमण किया व वहाँ के पर्यावरण की जानकारी प्राप्त की।

सूक्ष्मजीवविज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. शमा ए. बैग ने कहा शैक्षणिक भ्रमण द्वारा विद्यार्थियों को प्रायोगिक, सैद्धांतिक व प्रत्यक्ष रूप से अपने पाठ्यक्रमों से अवगत होने का अवसर मिला।

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. दीपक शर्मा व श्री शंकराचार्य नर्सिंग महाविद्यालय की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. मोनिशा शर्मा ने छात्रों का उत्साहवर्धन करते हुये कहा इस प्रकार की गतिविधियों से छात्रों का सर्वांगीण विकास होता है। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने कहा इस प्रकार के शैक्षणिक भ्रमण पाठ्यक्रम का हिस्सा है, जो व्यवहारिक ज्ञान प्राप्त करने के लिए आवश्यक है।

शैक्षणिक भ्रमण को सफल बनाने में स.प्रा. योगिता लोखंडे व स.प्रा. समीक्षा मिश्रा सूक्ष्मजीवविज्ञान विभाग का विशेष योगदान रहा।