Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

भोरमदेव महोत्सव के दूसरे दिन सारेगामापा विजेता इशिता विश्वकर्मा की गीतों की महफिल से सजा मंच, बॉलीवुड, छत्तीसगढ़ की लोक पारंपरिक गीत-संगीत के साथ हुआ भोरमदेव महोत्सव का दूसरे दिन का शुभारंभ, भोरमदेव महोत्सव के दूसरे दिन बैगा नृत्य, तबला जुगलबंदी, छत्तीसगढ़ी लोक संगीत के साथ स्कूली बच्चों ने दी मनमोहक प्रस्तुति

 कवर्धा कवर्धा, छत्तीसगढ़ की लोक-पारंम्परिक लोकगीत तथा बॉलीवुड की सुपर-डूपर हिन्दी फिल्मों की गाने के साथ कबीरधाम जिले में आयोजित भोरमदेव म...

Also Read

 कवर्धा







कवर्धा, छत्तीसगढ़ की लोक-पारंम्परिक लोकगीत तथा बॉलीवुड की सुपर-डूपर हिन्दी फिल्मों की गाने के साथ कबीरधाम जिले में आयोजित भोरमदेव महोत्सव वर्ष 2024 के अंतिम दिवस की संध्या सजी। महोत्सव के दूसरे दिन आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे सहित अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विकास कुमार, जिला पंचायत सीईओ श्री संदीप अग्रवाल, अपर कलेक्टर श्री अविनाश भोई एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने दीप प्रज्जवलन के साथ विधिवत हुआ। इस दौरान जिला न्यायधीश श्रीमती सत्यभामा अजय दुबे भी भोरमदेव महोत्सव में शामिल हुई। छत्तीसगढ़ कबीरधाम की ऐतिहासिक, पुरात्तविक, धार्मिक, पर्यटन और जन आस्था का केन्द्र के नाम से प्रत्येक वर्ष यह आयोजन होते आ रहा है। यह 28 वां भोरमदेव महोत्सव था। महोत्सव समापन से पूर्व बाबा भोरमदेव मंदिर के शिव जी का विधिवत प्रातः काल महाअभिषेक, एक हजार नामों से सहस्त्रार्चन, रूद्राभिषेक, विशेष श्रृंगार आरती की गई। दूसरे पहर शायं काल में सहस्त्रधारा से महाभिषेक, श्रृंगार महाआरती-भस्म आरती, शिव सरोवर के सामने भगवान वरूण देव का पूजन, दीपदान, गंगा आरती की गई।

    भोरमदेव महोत्सव के दूसरे दिन बैगा नृत्य के साथ सांस्कृतिक कार्याक्रमों का शुभारंभ हुआ। इसके बाद स्कूली बच्चों द्वारा रंगारंग प्रस्तुति दी गई। कुमार पंडित द्वारा तबला जुगलबंदी की प्रस्तुति देते हुए कार्यक्रम को आगे बढ़ाया। इसके बाद सारेगामापा विजेता सिंगर सुश्री इशिता विश्वकर्मा एवं एवं उनकी पूरी टीम की सुपर-हिट गीत संगीत की प्रस्तुति देकर महोत्सव का शमा बांधा