Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिये आवासीय कॉलोनी का वर्चुअल भूमिपूजन और शिलान्यास

  रायपुर । छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय मुख्य न्यायाधिपति न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा ने कोरबा जिले में न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिये आवासीय ...

Also Read

 रायपुर। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय मुख्य न्यायाधिपति न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा ने कोरबा जिले में न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिये आवासीय कॉलोनी का वर्चुअल भूमिपूजन और शिलान्यास किया. उन्होंने इस अवसर पर कहा कि किसी भी जिले में न्यायिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिये सर्वसुविधायुक्त रहवासी कॉलोनी उत्साहवर्धक और नयी ऊर्जा का संचार करने वाली होती है, जिससे उनके कार्यकुशलता में और दक्षता में वृद्धि होती है, जिले के नये कॉलोनी ऐसा बने जो राज्य के लिये एक मिसाल साबित हो.

 

चीफ जस्टिस सिन्हा ने आवास गृह निर्माण के लिए न्यायिक अधिकारी और कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि न्यायालयों को बुनियादी ढांचा प्रदान करने के लिए काम किया जा रहा है और इसके लिए पहल भी शुरू कर दी गई है. उन्होंने कहा कि हमें राज्य के न्यायालयों में काम करने का बेहतर माहौल प्रदान करना है. यह परियोजना न्यायिक अधिकारी-कर्मचारियों के लिए आवास प्रदान करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है. ताकि आवास प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े. उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों और इंजीनियरों को इस परियोजना को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा पर पूरा करने के निर्देश दिए. चीफ जस्टिस सिन्हा ने निर्माण कार्य की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए न्यायालयीन अधिकारियों को भी इस परियोजना की सतत् निगरानी रखने के लिए भी कहा.

भूमि पूजन और आधारशिला के कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं पोर्टफालियो जज गौतम भादुड़ी ने भी सम्बोधित करते हुए कहा कि आवास मनुष्य की मूलभूत आवश्यकता है, चीफ जस्टिस के द्वारा सभी जिलों के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि जिला न्यायालयों में आवास की कमी है. न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारी को सर्वसुविधायुक्त आवास उपलब्ध कराये जाने पर उनके कार्य में कुशलता होगी वे बिना किसी मानसिक दवाब से अच्छे से अच्छा कार्य तत्परता से करेगें. भारत संचार निगम लिमिटेड एवं लोक निर्माण विभाग से सतत् प्रयास कर वर्चुअल मोड में आवासीय कॉलोनी के भूमिपूजन एवं आधारशिला कार्य सफलतापूर्वक संपन्न हुआ.

गौरतलब है कि न्यायिक अधिकारी-कर्मचारियों के लिये न्यायिक आवासीय परिसर रामपुर कोरबा में आवासीय परिसर का निमार्ण एवं कटघोरा में आवासीय कॉलोनी का निर्माण किया गया है. जिसका छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रमेश सिन्हा और न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी, पोर्टफोलियो जज कोरबा विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर आधारशिला रखी. इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्येन्द्र कुमार साहू द्वारा मुख्य न्यायाधिपति और पोर्टफोलियो जज का स्वागत करते हुए कोरबा जिला को नई सर्वसुविधायुक्त रहवासी कॉलोनी की सौगात देने के लिए स्वागत किया गया.

इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्येन्द्र कुमार साहू, जयदीप गर्ग, विशेष न्यायाधीश, एट्रोसिटी एक्ट, कोरबा, अपर सत्र न्यायाधीश, गरिमा शर्मा, अश्वनी कुमार चतुर्वेदी, ज्योति अग्रवाल, विक्रम प्रताप चन्द्रा, कृष्ण कुमार सूर्यवंशी, मुख्य न्यायिक मजि. सीमा प्रताप चन्द्रा, सत्यानंद प्रसाद, प्रतिक्षा अग्रवाल, ऋचा यादव, कु. डिम्पल, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कोरबा, जिला अधिवक्ता संघ कोरबा के उपाध्यक्ष अनिष सक्सेना, सचिव नूतन सिंह ठाकुर, अधिवक्तागण अमरनाथ कौशिक, मानसिंह यादव, मीनू त्रिवेदी, प्रशासनिक अधिकारी पी.के. देवांगन, न्यायालय उप अधीक्षक, अनिल कुमार पटेल, लेखापाल एवं जिला न्यायालय कोरबा के अधिकारी एवं कर्मचारीगण सहित व्यवहार न्यायालय कटघोरा के अंतर्गत विशेष न्यायाधीश श्रद्धा शुक्ला शर्मा, मधु तिवारी, जितेन्द्र कुमार सिंह, कु. रूपल अग्रवाल, राहूल शर्मा, सिद्धार्थ आनंद सोनी और न्यायिक कर्मचारीगण उपस्थित थे.