Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

डिप्टी सीएम अरुण साव की कवासी लखमा को नसीहत, कहा- चुनाव के दौरान करना चाहिए मर्यादा का पालन...

  रायपुर। बस्तर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी कवासी लखमा के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने पर उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने कहा कि इससे पता ...

Also Read

 रायपुर। बस्तर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी कवासी लखमा के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने पर उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने कहा कि इससे पता चलता है वे किस प्रकार से नियमों के विपरीत जाकर बोल रहे हैं, किस प्रकार से आचार संहिता का लगातार उल्लंघन कर रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने नसीहत दी कि चुनाव के दौरान सभी को मर्यादाओं का पालन करना चाहिए, जिससे चुनाव शांतिपूर्वक और निष्पक्षता से संपन्न हो.

 

उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने मीडिया से चर्चा में राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ दौरे पर तंज कसते हुए कहा कि दुनिया शक्ति की आराधना कर रही है. चैत्र नवरात्रि का यह पर्व चल रहा है. पंचमी का दिन हम सब शक्ति का आराधना करें, जो शक्ति से लड़ने की बात करता है. मुझे लगता है कि किसमें इतनी शक्ति है, जो शक्ति से लड़ सके, समय उसका जवाब निश्चित रूप से देगा.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को जवाब देना चाहिए. 2018 के विधानसभा चुनाव में जो वादे किए थे, उनकी सरकार ने कोई भी वादा पूरा नहीं किया, छल किया, छत्तीसगढ़ की जनता को धोखा दिया. वे फिर से एक बार झूठ का पुलिंदा और झूठे वादे का पिटारा लेकर छत्तीसगढ़ में आ रहे हैं. छत्तीसगढ़ की जनता का उनकी बातों पर कोई असर नहीं होने वाला है, क्योंकि एक बार झूठ बोलकर जा चुके हैं झूठा वादा कर चुके हैं.

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के छत्तीसगढ़ दौरे पर अरुण साव ने कहा कि बीजेपी के केंद्रीय नेताओं का प्रचार के लिए आना प्रारंभ हो गया है. प्रदेश के मुख्यमंत्री और दूसरे नेता लगातार सभाएं और बैठकें ले रहे हैं. सभी मोर्चा प्रकोष्ठ पूरी ताकत से चुनाव अभियान में जुड़ चुके हैं. छत्तीसगढ में हम मिशन 11 पर काम कर रहे हैं. 11 की 11 लोकसभा सीट जीतने की दृष्टि से पूरी ताकत से जुड़े हुए हैं. कार्यकर्ताओं में, जनता में उत्साह है.

वहीं कांग्रेस पार्टी द्वारा महिलाओं से फॉर्म भरे जाने पर उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के वादे और घोषणा पत्र के बारे में देश की जनता बखूबी जानती है. ये चुनाव जीतने वाले नहीं है, इन्होंने कभी वादा पूरे नहीं किया. झूठे वादे करने में यह माहिर रहे हैं. जनता पर इसका कोई असर होने वाला नहीं है.