Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्वरूपानंद महाविद्यालय के छात्रों ने बनाया हर्बल रंग (कार्बनिक रंग) एवं हर्बल होली खेलने का लिया संकल्प

भिलाई .  असल बात न्यूज़.     स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के सूक्ष्मजीविविज्ञान विभाग के छात्रों ने होली के अवसर पर फूलों का उ...

Also Read



भिलाई .

 असल बात न्यूज़.    

स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के सूक्ष्मजीविविज्ञान विभाग के छात्रों ने होली के अवसर पर फूलों का उपयोग कर हर्बल रंगो का निर्माण किया। होली रंगो का त्यौहार है जिसे पूरे भारतवर्ष में धूमधाम से मनाया जाता है जिसमें लोग रासायनिक रंगो का उपयोग करते है, इससे सूजन, एलर्जी तथा देखने में धुंधलापन जैसे परेशानिया बढ़ती है। इन दुष्प्रभावों से बचने के लिए प्राध्यापकों के निर्देशन में छात्रों ने विभिन्न फूलों को एकत्रित करके इससे लाल, पीला, गुलाबी जैविक रंग बनाये तथा लोगों को इन रंगो का उपयोग करने की सलाह दी।

कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. शमा ए. बेग ने कहा कि रासायनिक रंग न सिर्फ त्वचा बल्कि  पर्यावरण को भी नुकसान पहुँचाते है इन्ही दुष्प्रभावों को कम करने के लिए सभी को हर्बल रंगो का प्रयोग करना चाहिए।

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. दीपक शर्मा ने छात्रों के द्वारा बनाए हर्बल रंगो की सराहना की। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने कहा कि छात्रों को इस प्रकार के नये कदम उठाने चाहिए तथा लोगों को हर्बल रंगो का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करना चाहिए। प्राचार्य प्राध्यापक एवं सभी विद्यार्थियों ने संकल्प लिया की वे महाविद्यालय में बनाये गए हर्बल रंगो से सूखी होली खेलेंगे, यह स्वयं को और वातावरण को संरक्षित रखने का प्रयास है। 

कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉ. नीना बागची विभागाध्यक्ष वनस्पत्ति विज्ञान, डॉ. जया तिवारी विभागाध्यक्ष जंतुविज्ञान, स.प्रा. योगिता लोखंडे व स.प्रा. समीक्षा मिश्रा, सूक्ष्मजीविज्ञान विभाग का विशेष योगदान रहा।