Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

उप मुख्यमंत्री शर्मा बोले- सभी पंचायतों में बनाएंगे महतारी सदन

  रायपुर।  राजधानी रायपुर में कल महापंचायत का आयोजन होगा. इस महापंचायत में प्रदेशभर से पंचायत प्रतिनिधि शामिल होंगे. केंद्रीय पंचायती राज्य ...

Also Read

 रायपुर। राजधानी रायपुर में कल महापंचायत का आयोजन होगा. इस महापंचायत में प्रदेशभर से पंचायत प्रतिनिधि शामिल होंगे. केंद्रीय पंचायती राज्य मंत्री कपिल मोरेश्वर पाटिल और मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय भी कार्यक्रम में शामिल होंगे. महापंचायत को लेकर डिप्टी सीएम विजय शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि कल महापंचायत का आयोजन है. पंचायतों के जनप्रतिनिधि शामिल होंगे. सरकार के 100 दिन पूरे हुए हैं. इस दौरान पंचायतों में क्या काम हुआ है और आगे क्या कर सकते हैं उसपर सुझाव लेंगे और विचार भी होगा. जिन पंचायतों को प्रधानमंत्री को प्रस्ताव भेजना है, उसका स्टॉल भी रहेगा, वो प्रस्ताव भेज सकते हैं. प्रधानमंत्री को कामों के लिए आभार दे सकते हैं. करीब सभी पंचायतें प्रधानमंत्री को प्रस्ताव भेजेंगे. सभी पंचायतों में महतारी सदन हम बनाने वाले हैं.


पंचायतों में चुनाव प्रक्रिया को लेकर विजय शर्मा ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि पंचायतों में चुनाव के और तरीके भी इजाद हो इसपर भी सम्मेलन में चर्चा होगी. मेरा मानना है कि गुप्त चुनाव से वैमनस्यता बढ़ती है. जिन प्रक्रियाओं में हम चल रहे हैं उसमें तो चल रहे हैं, लेकिन अन्य प्रक्रियाओं में विचार किया जाना भी जरूरी है. लोकतंत्र सिर्फ गुप्त मतदान से ही निकलता है. मेरा ऐसा मानना यही है और भी प्रक्रिया पर चिंतन करने की जरूरत है. भाजपा नेताओं की हत्या और नक्सलियों से बातचीत पर विजय शर्मा का बड़ा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या क्यों हो रही है? मैं भी ये समझना चाह रहा हूं ये कैसे हो रहा है? उन्हें अंतर कैसे पता? चाहे तो हमको सूचना करवाकर वीडियो कॉल पर भी बात कर लें. बातचीत की स्थिति हमेशा है, जब चाहेंगे तब है. हमारे अपने लोगों में वहां के नौजवानों में भ्रम फैलाया जा रहा है. विकास के काम का विरोध क्यों? महादेव सट्टा ऐप मामले में चार्जशीट में आरोपी पुलिस कर्मियों का नाम हटाने के सवाल पर विजय शर्मा ने कहा कि किसी के बयान पर किसी को फांसी पर नहीं लटकाया जा सकता है, अभी और जानकारी जुटाने की जरूरत है. कार्रवाई नहीं करने का कोई कारण ही नहीं है.