Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

प्रदेश में महतारी वंदन योजना की शुरूआत -प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअली जुड़कर की योजना की शुरूआत -70 लाख 12 हजार 800 पात्र हितग्राहियों को 655 करोड़ 57 लाख रूपए की राशि डीबीटी के माध्यम से अंतरित की गई -योजना से दुर्ग जिले के 4 लाख 5 हजार 319 महिला हितग्राही होंगे लाभान्वित

दुर्ग  जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन स्वामी विवेकानंद सभागार में विधायक श्री गजेन्द्र यादव के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न विकसित छत्तीसगढ़ निर्...

Also Read

दुर्ग 




जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन स्वामी विवेकानंद सभागार में विधायक श्री गजेन्द्र यादव के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न

विकसित छत्तीसगढ़ निर्माण के लिए महतारी वंदन योजना माताओं-बहनों के लिए एक छोटा सा अर्पण - मुख्यमंत्री श्री साय

       दुर्ग,  छत्तीसगढ़ में आज आयोजित महतारी वंदन सम्मेलन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वर्चुअली जुड़कर छत्तीसगढ़ की महत्वाकांक्षी योजना महतारी वंदन योजना की शुरूआत की। प्रधानमंत्री द्वारा योजना के 70 लाख 12 हजार 800 पात्र हितग्राही आवेदकों को 655 करोड़ 57 लाख रूपए की राशि डीबीटी के माध्यम से बटन दबाकर अंतरित की गई। इस योजना के तहत अब छत्तीसगढ़ में विवाहित माताओं बहनों को प्रतिमाह 1 हजार रूपए और प्रतिवर्ष 12 हजार रूपए मिलेंगे। योजना से दुर्ग जिले के 4 लाख 5 हजार 319 महिला हितग्राही लाभांवित होंगे। जिला मुख्यालय दुर्ग के विवेकानंद सभागार पदमनाभपुर में विधायक श्री गजेन्द्र यादव के मुख्य आतिथ्य में जिला स्तरीय महतारी वंदन सम्मेलन आज सम्पन्न हुआ। सम्मेलन में संभागआयुक्त श्री एसएन राठौर, कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, जिला पंचायत के सीईओ श्री अश्वनी देवांगन, नगर निगम के महापौर श्री धीरज बाकलीवाल एवं अन्य पदाधिकारी गण सम्मिलित हुए। सम्मेलन का शुभारंभ मुख्य अतिथि विधायक श्री गजेन्द्र यादव ने दीप प्रज्जवलित कर किया। सम्मेलन को प्रधानमंत्री जी ने वर्चुअली संबोधित किया। उन्होंने जय-जोहार के साथ उद्बोधन की शुरूआत की। प्रधानमंत्री जी ने छत्तीसगढ़ की अराध्य देवी मां दंतेश्वरी, मां बम्लेश्वरी और मां महामाया का स्मरण करते हुए छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों को अवगत कराया कि दो हफ्ते पहले मैंने आपके प्रदेश में 35 हजार करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। आज मुझे नारी शक्ति को सशक्त बनाने वाली महतारी वंदन योजना को समर्पित करने का सौभाग्य मिला है। महतारी वंदन योजना के तहत छत्तीसगढ़ की 70 लाख से अधिक माताओं बहनों को हर महीने एक हजार रुपए देने का वायदा किया गया। सरकार ने अपना वायदा पूरा किया। आज महतारी वंदन योजना के तहत छह सौ पचपन करोड़ रुपए की पहली किश्त जारी की गई और मैं स्क्रीन पर देख रहा हूँ लाखों लाखों बहनों के दर्शन हो रहे हैं। अलग अलग स्थान पर आपसे आशीर्वाद प्राप्त करना यह भी सौभाग्य है। आज मुझे आपके बीच पहुंचना चाहिए था पर अलग-अलग कार्यक्रमों की वजह से आज उत्तर प्रदेश में हूँ और काशी से बोल रहा हूँ कल रात बाबा विश्वनाथ को प्रणाम करते हुए सभी देशवासियों की भलाई के लिए प्रार्थना की। बाबा विश्वनाथ की धरती से आपसे बात करने का अवसर मिला। मैं तो आपको बधाई देता ही हूँ। बाबा विश्वनाथ भी आपको आशीर्वाद दे रहे हैं। 8 मार्च को शिवरात्रि की वजह से यह कार्यक्रम करना संभव नहीं था पर आज बाबा भोले की नगरी से एक हजार रुपए पहुंच रहा है साथ ही भोले बाबा का आशीर्वाद भी पहुंच रहा है। आप सभी के खातों में हर महीने बिना किसी परेशानी के ये पैसा आता रहेगा। ये मेरा भरोसा है छत्तीसगढ़ की सरकार पर, ये मैं गारंटी दे रहा हूँ। जब माताएं-बहनें सशक्त होती हैं तो पूरा परिवार सशक्त होता है। डबल इंजन सरकार की प्राथमिकता हमारी माताओं बहनों का कल्याण है। आज परिवार को पक्का घर मिल रहा है वो भी महिलाओं के नाम पर, उज्ज्वला का सस्ता सिलेंडर मिल रहा है वो भी महिलाओं के नाम पर। 50 प्रतिशत से अधिक जनधन खाते वो भी महिलाओं के नाम पर। 65 प्रतिशत से ज्यादा मुद्रा लोन भी महिलाओं ने लिया है खासकर नौजवान बेटियों ने। उन्होंने अपना काम शुरू किया। पिछले दस वर्षों में हमारी सरकार ने सेल्फहेल्प ग्रूप के माध्यम से 10 करोड़ से अधिक महिलाओं का जीवन बदला। हमारी सरकार के प्रयासों से अब तक एक करोड़ से ज्यादा लखपति दीदी बन गई हैं। गांव गांव में इतनी बड़ी आर्थिक शक्ति बन गई है। इस सफलता को देखते हुए हमने बड़ी छलांग लगाने का फैसला किया। हमने अब संकल्प किया कि देश की तीन करोड़ बहनों को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य पूरा करेंगे।  नमो ड्रोन दीदी योजना पर भी हम काम करेंगे। आप कल दस ग्यारह बजे जुड़ें आप देखें नमो ड्रोन दीदी कैसा कमाल कर रही हैं। सरकार बहनों को ड्रोन भी देगी, ड्रोन पायलेट की ट्रेनिंग भी देगी। एक दीदी ने कहा कि मुझे तो साइकिल भी नहीं चलानी आती थी अब मैं ड्रोन पायलेट हूं। इससे खेती विकसित होगी। परिवार समृद्ध तब होता है जब परिवार स्वस्थ होता है। परिवार स्वस्थ तभी होता है जब घर की महिलाएं स्वस्थ होती हैं। पहले गर्भ के दौरान माता शिशु की मृत्यु बड़ी चिंता होती थी। इस पर हमने काम किया। पहले शौचालय नहीं होने की वजह से माताओं को अपमान सहना पड़ता था। इससे महिलाओं को बीमारी से मुक्ति मिली है।

       सरकार बनने के इतने कम समय में महतारी वंदन योजना का वायदा पूरा हुआ इसके लिए मैं मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय और उनकी टीम को जितनी बधाई दूँ उतनी कम। मोदी की गारंटी का मतलब होता है गारंटी पूरी होने की गारंटी। हमने छत्तीसगढ़ की खुशहाली की जो गारंटी दी थी उसे पूरा करने के लिए हमारी सरकार लगातार काम कर रही हैं। हमने गारंटी दी थी कि 18 लाख पक्के घर का निर्माण करेंगे। सरकार बनने के दूसरे ही दिन साय कैबिनेट ने इस पर काम शुरू कर दिया। छत्तीसगढ़ के धान किसानों को दो साल के बकाया बोनस की गारंटी दी थी। छत्तीसगढ़ सरकार ने अटल जी के जन्मदिवस के अवसर पर 3716 करोड़ रुपए किसानों के खाते में पहुंचा दिया। हमने गारंटी दी थी कि 3100 रुपए प्रति क्विंटल धान खरीदी करेगी। यह वायदा पूरा हुआ और 145 मीट्रिक टन धान खरीदकर रिकार्ड बना दिया। खरीदी गई अंतर की राशि का शीघ्र ही भुगतान किसान भाइयों को किया जाएगा। आने वाले पांच सालों में विकास कार्यों को बढ़ाया जाएगा। इसमें आपकी बड़ी भागीदारी होगी। छत्तीसगढ़ की डबल इंजन सरकार इसी तरह से आपकी हर गारंटी पूरी करेगी। गर्मी शुरू हो गई है और मेरी सामने लाखों माताएं हैं यह अद्भुत दृश्य है। मैं काशी धाम से बोल रहा हूँ। बाबा का आशीर्वाद पहुंचा रहा हूँ। आप सभी को बहुत बहुत शुभकामनाएं।

       प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने सम्मेलन को वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी ने अपना बहुमूल्य समय छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों हेतु महतारी वंदन योजना का शुभारंभ करने दिया, इसके लिए हम उनके प्रति आभारी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि माताओं-बहनों को जिस दिन का बेसब्री से इंतजार था, वह दिन आज आ गया है। हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आप लोगों को गारंटी दी थी कि छत्तीसगढ़ में यदि हमारी सरकार बनती है तो हम महतारी वंदन योजना शुरू करेंगे। आज 70 लाख 12 हजार 600 महिलाओं के बैंक खातों में पहली किश्त का अंतरण किया जा रहा है। 

      मुख्यमंत्री श्री साय ने कहा कि "यत्र नार्यस्तु पूज्यंते, रमन्ते तत्र देवताः" अर्थात जहां नारी का सम्मान होता है, वहां देवता वास करते हैं। महतारी वंदन योजना के माध्यम से इस ध्येय वाक्य को धरातल पर मूर्त रूप दिया गया है। महिला सशक्तिकरण की दिशा में उठाया गया यह मजबूत कदम छत्तीसगढ़ की आधी आबादी के सपनों को पूरा करने की दिशा में बड़ी छलांग है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप शक्ति-स्वरूपा हैं। आप राष्ट्र की निर्माता हैं। आपका योगदान अनमोल है, यह महतारी वंदन योजना आप लोगों को छोटा सा अर्पण है। मोदी जी ने विकसित भारत के निर्माण का लक्ष्य देश के सामने रखा है। इसके लिए विकसित छत्तीसगढ़ का निर्माण बहुत जरूरी है। आप लोग जितनी सशक्त होंगी, हमारा देश और प्रदेश भी उतना ही सशक्त होगा।

      दुर्ग में आयोजित सम्मेलन के मुख्य अतिथि विधायक श्री गजेन्द्र यादव ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में छत्तीसगढ़   में महिला सशक्तिकरण के लिए महतारी वंदन योजना को प्रथम सीढ़ी बताया। उन्होंने योजना अंतर्गत जिले के लाभान्वित 4 लाख 5 हजार पात्र हितग्राहियों को अपनी शुभकामनाएं दी। मुख्य अतिथि श्री यादव ने अपने कर कमलों से नए राशनकार्ड और खाद्यान कैरी बैग हितग्राहियों को प्रदान किया। सम्मेलन को महापौर श्री धीरज बाकलीवाल ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी।