Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

एनआईटी रायपुर में हुआ रोबोफेस्ट’24 का आयोजन , रोबोथान और रोबोएक्सपो का किया गया आयोजन

  भिलाई. असल बात news.                                                                         राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान रायपुर के रोबो...

Also Read

 


भिलाई.

असल बात news.                                                                        

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान रायपुर के रोबोटिक्स क्लब ने  दो दिवसीय वार्षिक रोबोटिक्स टेकफेस्ट 'रोबोफेस्ट'24' आयोजित किया। इस उत्सव का प्राथमिक उद्देश्य एनआईटी रायपुर के छात्रों के बीच रोबोटिक्स और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) के क्षेत्र में गहरी रुचि को बढ़ावा देना था। उत्सव का आयोजन क्लब के प्रभारी डॉ राजेश डोरिया के कुशल मार्गदर्शन में हुआ

उत्सव के पहले दिन की शुरुआत उद्घाटन समारोह में राष्ट्रीय गीत की गूंज के साथ हुई। इसके बाद अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन किया गया।  समारोह के मुख्य अतिथि डीन (एकेडमिक्स) डॉ. श्रीश वर्मा और करियर डेवलपमेंट सेंटर के हेड डॉ. समीर बाजपेयी रहे। रोबोटिक्स क्लब के प्रभारी डॉ. राजेश डोरिया ने अपने भाषण में इस बात पर प्रकाश डाला कि क्लब ने आईआईटी और एनआईटी जैसे अन्य संस्थानों में एनआईटी रायपुर का प्रतिनिधित्व किया और संस्थान पूरे भारत के सभी संस्थानों के साथ प्रतिस्पर्धा करते हुए शीर्ष 80 में से एक था। डॉ. समीर बाजपेयी ने रोबोटिक्स टेकफेस्ट आयोजित करने की परंपरा को जारी रखने के लिए क्लब के सदस्यों को बधाई दी। उन्होंने कहा की रोबोटिक्स क्लब ऐसे क्लबों में से एक है जो रियल लाइफ प्रॉब्लम्स को हल करने का सही रास्ता प्रदान करेगा और व्यक्ति ऑटोमेशन और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) जैसे कई स्किल्स सीख सकता है जो रोबोट के निर्माण में मदद करेगें। डॉ. श्रीश वर्मा ने प्राचीन और आधुनिक टेक्नोलॉजी के बारे में अपने विचार रखे और उनके मुख्य अंतर को समझाया। उन्होंने पिक्चर ट्यूब का बल्ब बनाने के लिए रोबोटिक आर्म के साथ काम करने की अवधारणा को समझाया और ग्लास लिक्विड ट्यूब को दबाने के लिए रोबोटिक आर्म में प्रोग्रामेबल लॉजिक कंट्रोल जोड़ने और ऑटोमेशन में पीएलसी के उपयोग के बारे में भी बताया |

रोबोथॉन प्रतियोगिता में छात्रों को 24 घंटे की समय सीमा के अंदर नए सिरे से रोबोट बनाने की चुनौती दी गई जिसमें प्रतिभागियों ने फंक्शनल रोबोट के निर्माण के लिए अपनी रचनात्मकता, टेक्निकल स्किल्स और प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल्स का उपयोग किया। प्रतियोगिता में 12 टीमों ने भाग लिया और पिक एंड ड्रॉप, विजुअली ब्लाइंड हेल्पर, वाटर सर्फेस क्लीनर एवं माइन डिटेक्टर जैसे प्रोब्लम स्टेटमेंट्स के हल अपने मॉडल्स के माध्यम से दिए। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर एनआईटी रायपुर की  टीम dp/dt, द्वितीय स्थान पर एसएसआईपीएमटी रायपुर की टीम वोल्टेज और तृतीय स्थान पर एनआईटी रायपुर की टीम डिवाइन रोबोट और बीआईटी दुर्ग की टीम टॉप जिस संयुक्त रूप से रहीं।

रोबोरेस प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने अपने रोबोट्स कार को ट्रैक पर दौड़ाया और सबसे कम समय में रेस खत्म करने वाले टीम को विजेता घोषित किया गया। जीईसी रायपुर की टीम मेगाट्रॉन 2 प्रथम स्थान पर, मेगाट्रॉन 1 द्वितीय स्थान पर और इलेक्ट्रॉन 1 तृतीय स्थान पर रही।

रोबोफाइट, रोबोट्स के बीच एक रोमांचक मुकाबला था, विजेता का चयन, प्रतिस्पर्धी रोबोट को निर्धारित क्षेत्र से बाहर करने के आधार पर किया गया। इस प्रतियोगिता में कुल 6 टीमों ने भाग लिया जिसमें जीईसी रायपुर की टीम इलेक्ट्रॉन प्रथम स्थान पर और टीम मेगाट्रॉन द्वितीय स्थान पर विजयी रहीं। 

रोबोक्विज प्रश्नोत्तर प्रतियोगिता में रोबोटिक्स से संबंधित क्षेत्र जैसे कि संवेदनशील रोबोट, कार्यक्षमता, उपयोगिता, इनोवेशन आदि पर प्रश्न पूछे गए। क्विज के विजेता एनआईटी रायपुर के मेटलर्जी विभाग के 6th सेमेस्टर के छात्र अंश श्रीवास्तव रहे। 

आइडियाथॉन एक आकर्षक पिचिंग प्रतियोगिता थी जहां छात्रों को प्रॉब्लम स्टेटमेंट्स का एक सेट प्रस्तुत किया गया, जिनके समाधान ढूंढने के लिए रोबोटिक्स के क्षेत्र में उन्हें अपने इनोवेटिव आइडियाज देने के लिए प्रेरित किया गया। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर स्मार्ट एयर प्यूरिफाइंग सिस्टम,द्वितीय स्थान पर स्मार्ट डस्टबिन और तृतीय स्थान पर माइक्रो फ्लाइंग रोबोट्स विद स्पिनिंग फ्लाई लाइक विंग्स प्रोटोटाइप रहे।

असेंबलर्स इवेंट में छात्रों को उपलब्ध कराए गए कंपोनेंट्स का उपयोग करके रोबोटिक्स, आईओटी और ऑटोमेशन के सिद्धांतों का प्रयोग करके प्रोजेक्ट्स बनाने की चुनौती दी गई। प्रतियोगिता में एनआईटी रायपुर की टीम प्राइम, टीम ड्रीमर्स और टीम खनन क्रमशः प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर रहीं।

रोबोएक्स्पो एक रोबोट प्रदर्शनी कार्यक्रम था जिसमें विद्यार्थियों ने विभिन्न तकनीकी मॉडल्स प्रस्तुत किए और रियल लाइफ में उनकी जरूरतों के बारे में बताया। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर एसएसआईपीएमटी रायपुर की टीम 101 रोबोट, द्वितीय स्थान पर एनआईटी रायपुर की टीम फायर और तृतीय स्थान पर एनआईटी रायपुर की टीम टाइटन रही।

फेस्ट का समापन समारोह 17 मार्च 2024 को आयोजित किया गया जिसमें मुख्य अतिथि संस्थान की निदेशक(प्रभारी) डॉ. श्रीमति ए बी सोनी और करियर डेवलपमेंट सेंटर के प्रभारी डॉ समीर बाजपेयी रहे। श्रीमति सोनी ने अपने भाषण में सभी प्रतिभागियों और आयोजक टीम को बधाईयां दी और कहा की छात्रों को रचनात्मक और इनोवेटिव होने की जरूरत है ताकि भविष्य में आने वाली चुनौतियों का तकनीक की सहायता से समाधान निकाला जा सके। भारत की 50% से ज्यादा आबादी युवा है और पूरा विश्व हमें आशा की दृष्टि से देखता है। अंत में उन्होंने सभी विद्यार्थियों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। डॉ समीर बाजपेयी ने फेस्ट के सफल आयोजन पर खुशी व्यक्त की और विद्यार्थियों को शैक्षणिक स्किल्स के साथ साथ अन्य टेक्निकल स्किल्स में भी दक्षता हासिल करने के लिए प्रेरित किया और आयोजक टीम को अभी से रोबोफेस्ट 2025 की तैयारी करने की सलाह दी। विजयी प्रतिभागियों को आकर्षक उपहार देकर सम्मानित किया गया। अंत में डॉ राजेश डोरिया ने धन्यवाद प्रस्ताव देकर फेस्ट का समापन किया।