Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

कृषक उन्नति योजना : मुख्यमंत्री द्वारा रिमोट के बटन दबाते ही जिले की 105778 किसानों के खाते में 537 करोड़ 60 लाख की राशि अंतरित - कलेक्टर ने पांच समिति के किसानों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया - कृषक उन्नति योजना में बड़ी संख्या में शामिल हुए किसान

 दुर्ग  दुर्ग,/मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने आज कृषक उन्नति योजना के तहत डीबीटी के माध्यम से छत्तीसगढ़ की 24.72 लाख से अधिक किसानों के ख...

Also Read

 दुर्ग 




दुर्ग,/मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने आज कृषक उन्नति योजना के तहत डीबीटी के माध्यम से छत्तीसगढ़ की 24.72 लाख से अधिक किसानों के खाते में 13320 करोड़ रुपए बटन दबाकर राशि का अंतरण किया। मुख्यमंत्री द्वारा रिमोट के बटन दबाते ही दुर्ग जिले की 105778 किसानों के खाते में 537 करोड़ 60 लाख की राशि अंतरित हुआ। दुर्ग जिले में 87 समितियों के 102 उपार्जन केंद्रों के माध्यम से धान खरीदी की गई। राज्य सरकार द्वारा किसानों से 3100 रुपए प्रति क्विटंल के मान से धान की खरीदी की गई। किसानों को अंतर की राशि धान कामन एवं सरना धान 917 रुपए प्रति क्विंटल एवं धान ग्रेड ’ए’ 897 रुपए प्रति क्विंटल के मान से भुगतान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय बालोद जिले से प्रदेश के सभी विकासखंडों में आयोजित कृषक उन्नति योजना को वर्चुअल संबोधित किया। दुर्ग जिले के विवेकानंद सभागार में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री ने सभी किसानों को अंतर की राशि उनके खाते में अंतरण होने पर किसानों को बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार के तीन माह पूरा हो गया। राज्य सरकार द्वारा शपथ ग्रहण के दूसरे दिन प्रथम कैबिनेट की बैठक में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत 18 लाख घरों के निर्माण की स्वीकृति दी। महिला सशक्ति को ध्यान में रखते हुए महतारी वंदन योजना के तहत 70 लाख महिलाओं के खाते में 655 करोड़ 57 लाख रुपए की पहली किस्त का अंतरण किया। महिलाओं को प्रतिमाह 1000 हजार रूपए की दर से वार्षिक 12 हजार रूपए आर्थिक सहायता प्राप्त होगी। राज्य सरकार ने अन्न दाता किसानों को दो साल के बकाया राशि बोनस की राशि लगभग 13 लाख किसानों के बैंक खाते में सुशासन दिवस के दिन 3716 करोड़ रुपए की राशि अंतरित की। किसानों से रिकार्ड तोड़ धान खरीदी की गई। तेंदूपत्ता संग्रहण दर को 4000 रुपए प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर 5500 रूपए प्रति मानक बोरा के हिसाब से 15 दिन खरीदी की जाएगी। छत्तीसगढ़ के लोगों को अयोध्या यात्रा के लिए रामलला दर्शन योजना लागू की गई, जिसका लाभ छत्तीसगढ़वासी उठा रहे हैं। 

विधायक श्री गजेन्द्र यादव ने कहा कि छत्तीसगढ़ कृषि प्रधान देश है। किसानों के लाभ को बढ़ाने के लिए यह योजना चालू किया गया है। किसानों के लिए यह ऐतिहासिक दिन है। धान की खरीदी की अंतर की राशि 917 रूपए प्रति क्विंटल की दर से दिया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र और मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार ने किसानों के सर्वतोमुखी कल्याण के लिए अनेक योजनाओं को क्रियान्वित किया है। छत्तीसगढ़ के माटी मुखिया प्रदेश के किसानों को आज कृषक उन्नति योजना के तहत अंतर की राशि का वितरण किया। सरकार ने दो सालों का बकाया बोनस राशि भी दिया। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत शासन ने 18 लाख आवास बनाने का निर्णय लिया। राज्य सरकार द्वारा किसानों की स्थिति मे सुधार करने के लिए विकास की गंगा लगातार प्रवाहित कर रहे हैं। 

कार्यक्रम के पश्चात कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी द्वारा कोडिया समिति के किसान श्री खेदूराम/कोमन ग्राम कोडिया, करंजा भिलाई समिति के किसान श्री विनायक/गिरजाशंकर  ग्राम समोदा, थनौद समिति के किसान श्री लजकुमार/हेमराय ग्राम बिरेझर, चंदखुरी समिति के किसान श्री चैतराम/गणेश ग्राम चंदखुरी एवं कोडिया समिति के किसान श्री राकेश कुमार/सखाराम ग्राम खम्हरिया को कृषक उन्नति योजना के तहत प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अश्वनी देवांगन, श्री जितेन्द्र साहू, श्री विनायक ताम्रकार सहित बड़ी संख्या में कृषक उपस्थित थे।