Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

प्रदेश सहित कबीरधाम जिले का समग्र विकास शासन की प्राथमिकता में -उपमुख्यमंत्री श्री विजय शर्मा

 कवर्धा डिप्टी सीएम श्री शर्मा ने जिले के समग्र विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, सड़क, पुल-पुलिया निर्माण, नवीन सिंचाई योजना, रोजगार और उद्यम...

Also Read

 कवर्धा



डिप्टी सीएम श्री शर्मा ने जिले के समग्र विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, सड़क, पुल-पुलिया निर्माण, नवीन सिंचाई योजना, रोजगार और उद्यमिता विकास पर दिया विशेष जोर, कार्ययोजना बनाने अधिकारियों को दिए निर्देश 

कवर्धा, उपमुख्यमंत्री बनने के बाद कवर्धा विधायक श्री विजय शर्मा ने आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की पहली बैठक ली। उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने अधिकारियों की पहली बैठक में केन्द्र तथा राज्य शासन की योजनाओं और उनके प्रगति की गहन समीक्षा की। उन्होंने अपनी पहली बैठक में कबीरधाम जिले के समग्र विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, सड़क, पुल-पुलिया निर्माण, नवीन सिंचाई योजना, रोजगार और उद्यमिता विकास पर विशेष जोर दिया है। उन्होंने इन सभी क्षेत्रों में नए कार्यो का प्रस्ताव बनाने के लिए विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है। साथ ही उन्होंने इसके लिए समय-सीमा भी निर्धारित की है। उन्होंने बैठक में विभागवार योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिले के समग्र विकास के लिए आगामी बजट में शामिल करने के लिए शीघ्रता से कार्य योजना बनाने के निर्देश भी दिए। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुशीला भट्ट, जनपद अध्यक्ष श्रीमती इंद्राणी चंद्रवंशी, जिला पंचायत सदस्य श्री रामकुमार भट्ट, कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे, पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव, वन मंडलाधिकारी श्री चूड़ामणि सिंह, जिला पंचायत सीईओ श्री संदीप कुमार अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। 

बैठक में उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने जिले में आगामी खरीफ सीजन के लिए किसानों के  मांग के अनुपात में जिले में खपत होने वाली यूरिया खाद की विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को यूरिया पर सर्वाधिक सब्सिडी दी जाती है। लेकिन प्रचार-प्रसार नहीं होने के कारण किसानों को जानकारी नहीं हो पाती। सब्सिडी की जानकारी किसानों को मिल सके इसके लिए जिले के सेवा सहकारी समितियों में व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। 

उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने मछली पालन से जुड़े जिले के स्थानीय मछुआरा परिवारां को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए विशेष जोर दिया है। बैठक में उन्होंने मत्सय पालन विभाग के अधिकारी को जिले के मध्यम जलाशयों में केज कल्चर मत्सय पालन को बढ़ावा देने के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि केज के माध्यम से मछली पालन के संबंध में स्थानीय लोगों से चर्चा कर उन्हें उच्च स्तरीय प्रशिक्षण देने के निर्देश भी दिए है। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में 3 मध्यम जलाशयों में केज के माध्यम से मछली पालन किया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने मछली पालन विभाग से मछुआरों को मिलने वाली समाग्री वितरण आईस बॉक्स, जाल एवं मोटर सायकल की पूरी जानकारी ली। उन्होंने आगामी वर्ष में जिले के मछुआरा परिवारों को मोटर सायकल प्रदान करने के लिए राज्य शासन को मांग पत्र भेजने के निर्देश दिए। 

उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने जिले में रोजगार और उद्यमिता के नवाचार को बढ़ावा देने के लिए बैठक में जिला व्यापार उद्योग केन्द्र विभाग और कौशल विकास विभाग के अधिकारियों को कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले के इच्छुक समूहों एवं महिला स्व सहायता समूहों के लिए रोजगार के नए अवसर देने के लिए कौशल विकास को और उद्यमिता विकास के लिए जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले में उद्यानिकी फसल केला और कृषि खेती गन्ने की पर्याप्त मात्रा में उत्पादन होता है। हमे जिले की समूहों के लिए केले के रेसे से बनने वाले बैग्स, कपड़ा, साड़ी, शर्ट की दिशा में भी विचार करना चाहिए। साथ ही उनके पत्तों से बनने वाले दोना, पत्तल को बढ़ावा देना चाहिए। उन्होंने इस दिशा में समूहों को चयन कर प्रशिक्षण देने के लिए निर्देशित किया। 15 मार्च तक उद्यमिता विकास के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश भी दिए। बैठक में उन्होंने जिले के 3 हजार से आबादी वाले ग्रामों में गौरव पथ निर्माण के लिए विभाग के अधिकारियों को आगामी बजट में शामिल करने के लिए प्रस्ताव बनाने निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने प्रधानमंत्री जनमन योजना के क्रियान्वयन के लिए जिले में चल रहे सर्वेक्षण कार्य की प्रगति की जानकारी ली तथ शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए।  


जिले के सहकारी शक्कर कारखाना के शेयरधारी गन्ना उत्पादक किसानों को 50 किलो शक्कर देने के निर्देश


उपमुख्यमंत्री श्री विजय शर्मा ने कबीरधाम जिले के गन्ना उत्पादक किसानों से किए वादा को पूरा करते हुए उस दिशा में अपना कदम बढ़ा दिया है। उन्होंने जिले के सहकारी शक्कर कारखाना के शेयरधारी गन्ना उत्पादक किसानों को 50 किलो शक्कर देने सहकारी शक्कर कारखाना के एमडी को निर्देशित किया। डिप्टी सीएम ने कहा कि शक्कर वितरण करने के कोई विभागीय दिक्कत आ रही है तो शीघ्रता से राज्य सहकारिता विभाग को मार्गदर्शन पत्र भेजे और उसकी कापी मुझे उपलब्ध कराए ताकि शासन स्तर पर इसका ठोस निराकरण करते हुए गन्ना उत्पादक किसानों के हित मे एक अच्छा काम  हो सके। 


उपमुख्यमंत्री ने आगामी बजट में शामिल करने के लिए जिले में नवीन सड़के, पुल-पुलिया के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए


उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने बैठक में जिले के मैदानी एवं पहाड़ी क्षेत्रों में सड़कों की स्थिति की गहन समीक्षा की। बैठक में उन्होंने पीडब्लूडी, पीएमजीएसवाय, सीएमजीएसवाय और आरईएस विभाग के अंतर्गत स्वीकृत, पूर्ण हो चुके कार्य, प्रगतिरत एवं अप्रारंभ कार्यो की स्थिति की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा है कि जिलेवासियों को आवागमन की सुगम व्यवस्था मिल सके यह हमारी प्राथमिकता में शामिल है। उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को नवीन सड़क एवं मरम्मत तथा नवीन पुल पुलिया निर्माण के लिए आगामी बजट में शामिल कराने के लिए प्रस्ताव बनाने निर्देश दिए। 


उपमुख्यमंत्री ने नवीन सिंचाई परियोजना के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए


उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने कहा कि कबीरधाम जिला पूर्णतः कृषि प्रधान जिला है। चूकि इस जिले में औसत रूप से कम बारिश होती है, इसलिए यहां के किसानो को पर्याप्त सिंचाई की सुविधा नहीं मिल पाती। हमे जिले के किसानों को और मजबूत बनाने के लिए जिले में और नए सिंचाई परियोजनाओं पर काम करने की अवश्यकता है। उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को जिले के किसानों के लिए 10 नए सिंचाई परियोजना के निर्माण के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने सुतियापाठ जलाशय में नहर विस्तारीकरण के सर्वे की कार्यो की पूरी जानकारी ली। उन्होंने बैठक में जिले के पुरातत्व, ऐतिहासिक धार्मिक आस्था से जुड़े करियाआमा के समीप नवीन सिंचाई योजना के निर्माण के लिए भी विभाग को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में जमुनिया नाला को सुतियापाठ जलाशय से लिंक करने के लिए फिटर केनल निर्माण के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। 


पशुपालकों को मिलेगी बड़ी सुविधा, गौवंशीय मवेशियों के लिए एक्सरे मशीन खरीदने के निर्देश दिए 


उपमुख्यमंत्री श्री विजय शर्मा की पहल पर अब कबीरधाम जिले के पशुपालकों, किसानों एवं दुध उत्पादक किसानों को बड़ी सुविधा मिलेगी। उन्होंने बैठक में मवेशियों के लिए एक्सरे मशीन सहित अन्य तकनीकि उपकरण खरीदने के लिए कृषि उप संचालक को आवश्यक निर्देश दिए। डिप्टी सीएम के संज्ञान में आया था कि जिले में मवेशियों के लिए एक्सरे मशीन नहीं होने के वजह से उनका उचित उपचार नहीं हो पाता था। इसके लिए विभाग एवं किसानों को परेशानियां भी होती थी और उन्हें दुर्ग चिकित्सालय पर निर्भर होना पड़ता था। 


शिक्षकों की वैकल्पिक व्यवस्था के लिए जिला स्तर पर कार्य योजना बनाने के निर्देश


उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने जिले में शिक्षा विहीन स्कूल की जानकारी लेते हुए, शिक्षकों की वैकल्पिक व्यवस्था के लिए जिला स्तर पर कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में आदिम जाति कल्याण विभाग की समीक्षा करते हुए आश्रम छात्रावासों के लिए कपड़ों की धुलाई के लिए वासिंग मशीन खरीदी के लिए प्रस्ताव बनाने के भी निर्देश दिए।