Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

मंत्रियों को विभागों का आवंटन

  छत्तीसगढ़।  असल बात न्यूज़ ।।   छत्तीसगढ़ राज्य में नए मंत्रियों को विभागों का आवंटन कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ के नए मंत्रिमंडल का स्वरूप ...

Also Read

 


छत्तीसगढ़।

 असल बात न्यूज़ ।।  

छत्तीसगढ़ राज्य में नए मंत्रियों को विभागों का आवंटन कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ के नए मंत्रिमंडल का स्वरूप करीब करीब वैसा ही है जैसा कि राजनीतिक विश्लेषकों के द्वारा काफी पहले से अनुमान किया जाता रहा है। जो लोग चाहते रहे होंगे कि मंत्रिमंडल में नए चेहरों को अधिक महत्व मिलना चाहिए, मंत्रिमंडल का नया स्वरूप काफी कुछ वैसा ही नजर आ रहा है। मंत्रिमंडल में नए चेहरो को उपमुख्यमंत्री बनाया गया है और अब उन्हें महत्वपूर्ण विभाग भी दिया गया है। मंत्रिमंडल के इस स्वरूप के साथ संभवत पुराने चेहरे से पैदा कतिपय नाराजगी को दूर करने की कोशिश की गई है। मंत्रिमंडल की एकमात्र महिला मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े को महिला बाल विकास तथा समाज कल्याण विभाग की  जिम्मेदारी दी गई है। मंत्रियों के विभागों के आवंटन की  सूचना छत्तीसगढ़ राजपत्र में प्रकाशित कर दी गई है। 

मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने मंत्रिमंडल के सदस्यों को विभागों का आवंटन कर दिया है। मुख्यमंत्री श्री साय ने सामान्य प्रशासन खनिज साधन ऊर्जा जनसंपर्क आबकारी, परिवहन तथा अन्य विभाग जो कि किसी अन्य मंत्री को आवंटित नहीं किए गए हैंइत्यादि विभाग स्वयं अपने पास रखा है।

उप मुख्यमंत्रियों में अरुण साव को लोक निर्माण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, विधि एवं विधाई कार्य तथा नगरीय प्रशासन इत्यादि विभाग सौंपा गया है।

उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा को गृह जेल एवम ग्रामीण विकास  पंचायत में ग्रामीण विकास, तकनीकी शिक्षा,रोजगार, विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग इत्यादि विभागों की जिम्मेदारी दी गई है।

बृजमोहन अग्रवाल-- स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, संसदीय कार्य धार्मिक न्यास, संस्कृति,धर्मस्व, पर्यटन। 

राम विचार नेताम --आदिमजाति विकास, अनुसूचित जाति विकास, , पिछड़ा वर्ग विकास, अल्पसंख्यक कल्याण कृषि। 

दयाल दास बघेल-- खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण। 

केदार कश्यप-- वन एवं जलवायु परिवर्तन,सहकारिता, जल संसाधन एवं कौशल विकास।

लखन लाल देवांगन-- वाणिज्य उद्योग एवं श्रम।

श्याम बिहारी जायसवाल-- लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, चिकित्सा शिक्षा बीस सूत्रीय कार्यक्रम।

ओपी चौधरी-- वित्त, वाणिज्यिक कार्य, आवास एवं पर्यावरण, योजना एवं आर्थिक सांख्यिकी विभाग।

श्रीमती  लक्ष्मी राजवाड़े-- महिला बाल विकास तथा समाज कल्याण.।

टंक राम वर्मा मंत्री--  युवा एवं खेलकूद विकास विभाग, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन। 

शिक्षा किसी भी राज्य के विकास का महत्वपूर्ण आधार होती है हमारी कोशिश होगी कि छत्तीसगढ़ के बच्चों को अच्छी शिक्षा देकर चाहे वह स्कूली हो या फिर उच्च शिक्षा उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर लाने की कोशिश होगी। यह कहना है छत्तीसगढ़ शासन के मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल का जिन्होंने शुक्रवार देश शाम विभाग बटवारे के बाद पत्रकारों से वार्ता के दौरान कही। विभाग मिलने के बाद श्री बृजमोहन अग्रवाल ने मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय का आभार जताते हुए कहा की सभी मंत्रियों को उनकी योग्यता के हिसाब से विभाग दिए गए हैं। निश्चित रूप से भाजपा सरकार अच्छा प्रदर्शन करेगी और छत्तीसगढ़ को विकसित छत्तीसगढ़ बनाने की दिशा में काम करेगी। श्री अग्रवाल ने कहा की छत्तीसगढ़ में करीब 8 लाख सरकारी कर्मचारी है उनमें से लगभग चार लाख कर्मचारी अकेले स्कूल शिक्षा और उच्च शिक्षा में काम कर रहे है। ऐसे में मुख्यमंत्री ने मुझे एक बड़ी जिम्मेदारी दी है। उन्होंने मोदी की नई शिक्षा नीति को राज्य में लागू करने की जिम्मेदारी दी है हमारी कोशिश होगी कि छत्तीसगढ़ की शिक्षा को राष्ट्रीय स्तर पर स्थान दिलाया जाए ऐसी शिक्षा जिससे छत्तीसगढ़ के बच्चों का बेहतर भविष्य का निर्माण हो सके।

श्री बृजमोहन अग्रवाल को उच्च शिक्षा स्कूली शिक्षा के साथ ही पर्यटन, धर्मस्थ और संस्कृति विभाग की भी जिम्मेदारी गई है। 

जिस पर श्री बृजमोहन अग्रवाल का कहना है कि पर्यटन धर्मस्थ और संस्कृति के माध्यम से छत्तीसगढ़ की पहचान पूरे देश और दुनिया में बनाने की कोशिश की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा है कि राजिम कुंभ को पहले से ज्यादा बेहतर और भव्य रूप में  फिर से शुरू किया जाएगा।