Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

विधायक अरुण साव ने छत्तीसगढ़ के नए उप-मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ

  रायपुर.   छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक जीत के बाद आज मुख्यमंत्री समेत अन्य ने शपथ ले ली है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और ल...

Also Read

 रायपुर. छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक जीत के बाद आज मुख्यमंत्री समेत अन्य ने शपथ ले ली है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और लोरमी से विधायक अरुण साव ने छत्तीसगढ़ के नए उप-मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. इस दौरान मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह समेत केंद्रीय नेता, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और प्रदेश के वरिष्ठ और दिग्गज नेता उपस्थित रहे. भाजपा ने उन्हों लोरमी विधानसभा से प्रत्याशी बनाया था. जहां उन्होंने कांग्रेस के थानेश्वर साहू और जेसीसी के सागर सिंह बैस को हराया था.


अरुण साव का जन्म 25 नवंबर 1968 को हुआ. अरुण साव ने एसएनजी कॉलेज, मुंगेली और केआर लॉ कॉलेज, बिलासपुर से स्नातक किया है. 2001 में अरुण साव ने उच्च न्यायालय में प्रैक्टिस की और 2004 में छत्तीसगढ़ सरकार के लिए पैनल वकील के रूप में और 2005 से 2013 तक सरकार के लिए और 2013 से 2018 तक छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के उप महाधिवक्ता के रूप में कार्य किया.

उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में बिलासपुर से पहली बार सांसद चुनाव लड़ा और राजनीति में कदम रखा. जिसमें उन्होंने जीत हासिल की और अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की. वे 17वीं लोकसभा के लिए चुने गए. वर्तमान में वे छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं. बता दें कि साव संघ से भी जुड़े हुए हैं.

5 साल के गैप के बाद भाजपा की वापसी

बता दें कि छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी ने बंपर जीत हासिल की है. 2018 की तुलना में भाजपा ने अपना प्रदर्शन सुधारते हुए प्रदेश की सत्ता में वापसी की. 54 सीटों के साथ बीजेपी ने छत्तीसगढ़ में सरकार बनाई है. वहीं कांग्रेस 68 सीट से लुढ़ककर महज 35 सीटों तक ही सिमटकर रह गई. वहीं गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने 1 सीट पर कब्जा किया है.