Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

ससुराल वालों ने बहू की बच्चेदानी में बार-बार जड़ी-बूट्टियां रखने से पीड़िता की आंखों की चली गई रोशनी

  चंडीगढ़.  शादी के बाद बच्चा न होने पर ससुराल वालों ने बहू की बच्चेदानी में दाई की मदद जड़ी बुट्टियां रखवा दी। इसके बाद भी बच्चा नहीं हुआ त...

Also Read

 चंडीगढ़. शादी के बाद बच्चा न होने पर ससुराल वालों ने बहू की बच्चेदानी में दाई की मदद जड़ी बुट्टियां रखवा दी। इसके बाद भी बच्चा नहीं हुआ तो ससुराल वालों ने मायके छोड़ दिया। बच्चेदानी में बार-बार जड़ी-बूट्टियां रखने से शरीर में इंफैक्शन फैलने से पीड़िता की आंखों की रोशनी चली गई। पीड़िता ने पुलिस को शिकायत में ससुराल परिवार को जिम्मेदार ठहराते हुए 9 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवा दिया। पीड़िता की शादी करनाल के गांव बुटाणा में हुई थी। हंडेसरा पुलिस ने केस की फाइल संबंधित पुलिस थाने भेज दी है। हंडेसरा थाना प्रभारी गुरबीर सिंह ने बताया कि आरोपी गिरफ्त से बाहर हैं। आगामी कार्रवाई जिला करनाल पुलिस करेगी। आरोपियों की पहचान रजिंदर सिंह, सुसर ज्ञान सिंह, सास सुरिन्दर कौर, चाचा ससुर बलबीर सिंह, चाची सास चरनजीत कौर, दाई प्रीजो, भीमो और 2 अन्य के रूप में हुई है।



ससुराल वालों की शिकायत

लालड़ के अधीन गांव तसिंबली की रहने वालीविवाहिता ने पुलिस को दर्ज करवाई शिकायत में बताया कि 2009 में रजिंदर सिंह निवासी नीलोखेड़ी जिला करनाल से शादी हुई थी। बच्चा नहीं होने पर ससुराल वालों ने मारपीट शुरू कर दी। बच्चे की चाहत में अलग-अलग दाई के पास ले गए। दाई ने ससुराल वालों के कहे अनुसार बच्चेदानी में जड़ी बूट्टियां रखवा दी। इसका असर यह हुआ कि शरीर में फैले इंफेक्शन से आंखों की रोशनी चली गई। डाक्टरों से जांच करवाई तो बच्चेदानी से छेड़छाड़ कारण बताया। पीड़िता ने ससुरालवालों को जिम्मेदार ठहरा 9 लोगों के खिलाफ शिकायत दी। दूसरी ओर, पीड़िता ने ससुराल परिवार की हरकतों से तंग आकर इसकी शिकायत हंडेसरा पुलिस थाने में दर्ज करवा दी, जिस पर पुलिस ने उक्त लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।