Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

बैम्बू प्लांट को एक लकी पौधा माना जाता है. इसे लोग अपने घर, ऑफिस के डेस्क पर रखना पसंद करते हैं,सर्दियों में पौधे का ख्याल

  बैम्बू प्लांट को एक लकी पौधा माना जाता है. इसे लोग अपने घर, ऑफिस के डेस्क पर रखना पसंद करते हैं. यह छोटा सा पौधा खूबसूरत होने के साथ ही घर...

Also Read

 बैम्बू प्लांट को एक लकी पौधा माना जाता है. इसे लोग अपने घर, ऑफिस के डेस्क पर रखना पसंद करते हैं. यह छोटा सा पौधा खूबसूरत होने के साथ ही घर में सौभाग्य लाता है और आसपास पॉजिटिव एनर्जी बनाए रखता है. सर्दियों के मौसम में पौधों का खास ध्यान ना रखा जाए तो इनकी पत्तियां पीली पड़ने लगती हैं, मुरझाने लगती हैं.

ऐसे में आप चाहते हैं कि आपके घर साकारात्मक ऊर्जा का संचार होता रहे, सुख-समृद्धि बनी रहे तो आप बैम्बू के पौधे की देखभाल के लिए कुछ बातों का ध्यान रखें. हालांकि, इसे अधिक धूप की जरूरत नहीं होती, लेकिन महीनों हरा-भरा रखने के लिए इस तरह करें इसकी देखभाल.

  1. बांस का पौधा आपके घर है तो उसे हरा-भरा और मोटा बनाए रखने के लिए शुरुआत में ही इसे लगाने के लिए सही पॉट और मिट्टी का चयन करें. पॉट में नीचे की तरफ पानी निकलने की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए. इससे पानी गमले या पॉट में जमा नहीं होगा. मिट्टी में खाद भी किसी एक्सपर्ट की सलाह पर डालते रहें, ताकि बैम्बू का पौधा लगातार बढ़ता रहे.
  2. लकी बैम्बू प्लांट में लगातार नमी बनाए रखना जरूरी है, लेकिन इसे जरूरत से ज्यादा गीला ना रखें. पौधे को कम से कम पानी दें, ताकि पानी देने के बाद मिट्टी बहुत अधिक गीला ना रहे, जल्दी सूख जाए. नल का पानी ना दें, बेहतर होगा कि फिल्टर किए गए पानी का उपयोग करें. टैप वाटर डालने से हानिकारक मिनरल्स का संचय होने लगता है, जिससे पौधे को नुकसान हो सकता है.
  3. बैम्बू प्लांट हर तरह की लाइट के अनुकूल है, लेकिन ये इनडायरेक्ट लाइट में पनपता है. ऐसे में ध्यान रखें कि इस पौधे पर सीधी धूप ना पड़े वरना पत्तियां झुलस सकती हैं. यदि पौधा लंबा या पतला दिखाई देता है, तो अधिक मोटा और घना विकास हो, इसके लिए प्रकाश के संपर्क को समायोजित करने पर विचार करें.
  4. तापमान का भी ध्यान रखना जरूरी है. बैम्बू प्लांट को 65 °फेरनहाइट से 90°फेरनहाइट (18° सी से 32 ° सी) के तापमान में रखना चाहिए. इसे बहुत अधिक ठंड में ना रखें. घर के बाहर बालकनी में सर्दी के मौसम में रखने से बचें वरना ये खराब हो सकता है, इससे इसकी पत्तियां सूख सकती हैं.
  5. बैलेंस्ड लिक्विड फर्टिलाइजर का इस्तेमाल करें. जरूरत से ज्यादा पोषण दिए बिना आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करने के लिए हर 4-6 सप्ताह में फर्टिलाइजर दें. ऐसा ना करने से इसका विकास कमजोर हो सकता है.
  6. आप बैम्बू प्लांट को हर सप्ताह अलग-अलग जगहों पर रखें, ताकि पौधे पर हर तरफ समान रूप से सूर्य की रोशनी पड़े. यह असंतुलित विकास को रोकने में मदद करता है और पौधे को समान रूप से विकसित होने के लिए प्रोत्साहित करता है.
  7. यदि आपको कोई पत्ता पीला या तना कमजोर नजर आता है, तो उन्हें किसी कैंची या प्रूनिंग कैंची से काट लें. अस्वस्थ या बढ़े हुए हिस्सों को काटने से नई वृद्धि को बढ़ावा मिलता है.
  8. साथ ही पत्तों और तनों की साफ-सफाई भी करते रहें. धूल-मिट्टी पत्तियों पर लगने से पौधे की रोशनी को एब्जॉर्ब करने की क्षमता प्रभावित हो सकती है. मुलायम और गीले कपड़े से हल्के हाथों से पत्तियों को पोछें.