Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

गुरुनानक देव के प्रकाश पर्व में शामिल हुए महापौर धीरज बाकलीवाल -महापौर ने श्री गुरुग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेककर शहर व प्रदेश की खुशहाली की कामना

 दुर्ग दुर्ग,आज श्री गुरुनानक जयंती के अवसर पर महापौर धीरज बाकलीवाल श्री गुरु नानक देव जी के 554वें प्रकाश पर्व पर स्टेशन रोड स्थित गुरूसिंग...

Also Read

 दुर्ग




दुर्ग,आज श्री गुरुनानक जयंती के अवसर पर महापौर धीरज बाकलीवाल श्री गुरु नानक देव जी के 554वें प्रकाश पर्व पर स्टेशन रोड स्थित गुरूसिंग सभा गुरुद्वारा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। श्री गुरुनानक जयंती के अवसर पर सभी भक्तो के साथ लाइन में रहकर महापौर धीरज बाकलीवाल ने गुरूग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेककर आशीर्वाद लिया।दौरान महापौर धीरज बाकलीवाल ने सिख समाज के सेवा भाव की प्रशंसा की।उन्होंने कहा कि आज का दिन हम सभी के लिए बड़ा पवित्र दिन है।आज इस विशेष अवसर पर देश व दुनिया मे केवल सिख समाज बल्कि अन्य समाज के लोग भी गुरुद्वारा में आते है और मत्था टेकते है।श्री गुरुनानक जी का आशीर्वाद लेते है।महापौर धीरज बाकलीवाल ने कहा देश व धर्म को बचाने के लिए सिख गुरुओं ने बलिदान दिया।इस अवसर पर महापौर ने सभी को श्री गुरुनानक देव के 554वें प्रकाश पर्व पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी।इस अवसर पर संदीप वोरा,संजय कोहले,फतेह सिंह भाटिया,अरविंदर खुराना,मनदीप सिंह भाटिया,विकास यादव के अलावा इंदरपाल भाटिया मौजूद रहें।उन्होंने कहा कि गुरूनानक जयंती पूरे मानवता का प्रकाश पर्व है। गुरूनानक जी ने संदेश दिया कि पूरे संपूर्ण जगत का स्वामी एक है, सभी उसी के बंदे हैं।खालसा पंथ की सबसे बड़ी विशेषता है सेवा। सिख समाज पूरे विश्व में सेवा कार्यों के नाम से जाना जाता है।उन्होंने लंगर में शामिल होकर सभी के साथ मिलके प्रसाद ग्रहण किया।साथ ही सिख समाज के पदाधिकारियों ने महापौर और उनके साथियों को स्मृति चिन्ह भेंट करके सम्मानित किया