Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद द्वारा विज्ञान रॉयल सोसाइटी ऑफ केमिस्ट्री के सहयोग से दिया जा रहा है प्रशिक्षण

प्रशिक्षण कार्यशाला के दूसरे दिन रसायन विज्ञान की बारीकियों को रोचक तरीके से बताया गया ...

Also Read

प्रशिक्षण कार्यशाला के दूसरे दिन रसायन विज्ञान की बारीकियों को रोचक तरीके से बताया गया

छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद द्वारा विज्ञान रॉयल सोसाइटी ऑफ केमिस्ट्री के सहयोग से दिया जा रहा है प्रशिक्षण


  रायपुर.

छत्तीसगढ़ रीजनल साइंस सेंटर में आयोजित माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के दूसरे दिन रॉयल सोसाइटी ऑफ केमिस्ट्री की प्रतिष्ठित शिक्षक डेवलपर जया स्वामीनाथन ने एक गहन व्यावहारिक रसायन विज्ञान सत्र का नेतृत्व किया। उन्होंने व्यावहारिक प्रयोगों और इंटरैक्टिव प्रदर्शनों की एक श्रृंखला के माध्यम से, इलेक्ट्रोलिसिस, एसिड-बेस रिएक्शंस, अवक्षेपण, लोहे के निष्कर्षण, क्रोमैटोग्राफी आदि के पीछे के रहस्यों को उजागर करते हुए रसायन विज्ञान को जीवंत बना दिया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित शिक्षकों की सक्रिय भागीदार रही। उन्होंने रसायन विज्ञान की गहराईयों को बारीकी से समझा।  प्रशिक्षण पाकर शिक्षक रोचक तरीके से छात्रों को विज्ञान का अध्ययन करा पाएंगे। इससे छात्रोें में विज्ञान के प्रति अभिरूचि बढ़ेगी।
उल्लेखनीय है कि माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के कौशल विकास और ज्ञान को बढ़ाने के साथ-साथ स्कूली विद्यार्थियों को विज्ञान विषय लेने हेतु प्रेरित करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ विज्ञान प्रौद्योगिकी परिषद द्वारा रॉयल सोसाइटी ऑफ केमिस्ट्री के सहयोग से प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। 22 अगस्त से शुरू हुई यह कार्यशाला  25 अगस्त तक चलेगी। कार्यशाला में प्रस्तुतियों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए शिक्षण संसाधनों को पाठ्यक्रम के साथ एकीकृत करने के लिए व्यावहारिक प्रशिक्षण भी शामिल किया गया है।  जिसका उपयोग वे कक्षा में पारंपरिक चॉक-एंड-टॉक पद्धति के विकल्प के रूप में कर सकते हैं।