पाटन विकास योजना पर प्राप्त आपत्ति व सुझाव की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न, कई आपत्तियां भी मिली, सदस्यों के द्वारा विधिवत कार्रवाई की गई

 


  दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।।  

  पाटन विकास योजना के कार्यक्रम को शीघ्र शुरू करने के लिए छ.ग नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम के तहत गठित समिति के सदस्यों की आज महत्वपूर्ण बैठक हुई। इसमें योजना के संचालन हेतु प्राप्त आपत्ति व सुझाव की सुनवाई की गई। कुल मिलाकर 8 आपत्तियां प्राप्त हुई थी और सभी आपत्तिकर्ता  तथा सुझाव देने वाले नागरिक बैठक में उपस्थित थे।आपत्ति व सुझाव को समिति के सदस्यों के द्वारा सुना गया तथा विधिवत कार्यवाही की गई। 

 कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री पुष्पेंद्र कुमार मीणा एवं छ.ग नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम के तहत गठित समिति के अन्य सदस्य सांसद प्रतिनिधि लोकसभा क्षेत्र, दुर्ग, विधायक प्रतिनिधि, विधानसभा क्षेत्र, पाटन, अध्यक्ष नगर पंचायत पाटन, श्री भूपेन्द्र कश्यप, सरपंच श्री लीलाधर वर्मा ग्राम पंचायत खोरपा, सरपंच शीतल वर्मा ग्राम पंचायत अटारी, सरपंच श्रीमती पूर्णिमा वर्मा ग्राम पंचायत दैवमार, सरपंच श्रीमती साधना ग्राम पंचायत बठेना, श्रीमती उषा निषाद ग्राम पंचायत सिकोला, श्री रामनारायण साहू ग्राम पंचायत सुपकान्हा, श्रीमती गीतेश्वर सिरमौर ग्राम पंचायत सोनपुर, श्रीमती उषा वर्मा ग्राम पंचायत खम्हरिया, श्रीमती देवकुमारी वर्मा ग्राम पंचायत पंदर की उपस्थिति मे प्राप्त आपत्ति व सुझाव की सुनवाई सम्पन्न की गई। श्री प्रतीक दीक्षित, प्र. संयुक्त संचालक, नगर तथा ग्राम निवेश दुर्ग (छ.ग.) के द्वारा अवगत कराया गया कि, पाटन निवेश क्षेत्र में शामिल ग्रामों मे से ग्राम खोरपा के 1 आपत्ति, बठेना के 2 आपत्ति, नवागांव के 1 आपत्ति, सिकोला के 102 आपत्ति, पंदर के 1 आपत्ति तथा 1 सामान्य सुझाव, इस प्रकार कुल 8 आपत्ति व सुझाव प्राप्त हुए है। समस्त आपत्तिकर्ता एवं सुझावकर्ता समिति के समक्ष उपस्थित हुए। 

उक्त सुनवाई में इस कार्यालय से श्री राजेश डूमरे वरिष्ठ मानचित्रकार, श्री संदीप पटेल उप अभियंता, श्री अमर सिंह बघेल, उप अभियंता श्री अनुप कुमार गढ़े, वरिष्ठ शोध सहायक एवं अन्य संबंधित कर्मचारी उपस्थित थे। अंत में श्री प्रतीक दीक्षित, प्र. संयुक्त संचालक, नगर तथा ग्राम निवेश दुर्ग के द्वारा उपस्थित सदस्यों को धन्यवाद के साथ सुनवाई की कार्यवाही सम्पन्न की गई।